घर में रहकर मनाई गई शब-ए-बरात, इबादत में गुजारी रात

जावेद अख्तर की रिपोर्ट

हनवारा:क्षेत्र के विभिन्न इलाकों में शब-ए-बरात रविवार को शांति पूर्ण एवं अकीदत संग मनाया गया। त्योहार के मद्देनजर शनिवार से ही व मस्जिदों की आकर्षक सजावट शुरू हो गई थी। कब्रगाहों के साथ ही गलियों, मुहल्लों में साफ-सफाई की गई थी।सभी लोग घर के सफाई करने में शुक्रवार से ही लगे हुए थे। वहीं इबादतगाहों-कब्रगाहों के रास्तों की लाइटों को भी ठीक किया गया था। शब-ए-बरात पर देर शाम घरों में जहां फातेहा दिलाई जाती है। वहीं रात में लोग अपने अजीजों की कब्र पर फातेहा पढ़ने पहुंचे। इसके अलावा मस्जिदों-इबादतगाहों में सारी रात नफिल नामज अदा करने का सिलसिला भी जारी रहा।
उलमा-ए-कराम के मुताबिक जिसने यह रात इबादत में गुजार दी, उसने अपनी आखिरत को संवार लिया। इस रात सलात-ओ-तस्बीह की विशेष नमाज अदा करने का भी महत्व है। यह ऐसी नमाज है, जिसे अपनी पूरी उम्र में एक बार जरूर अदा करनी चाहिए। उलेमा के मुताबिक मौलाना महफूज ने बच्चों को पटाखे आदि नहीं छोड़ने की हिदायत देते हुए कहा कि कब्रगाहों पर अदब-ओ-एहतराम के साथ बिना शोरशराबे के साथ जाएं और कब्र वालों के लिए दुआ करें।सारी रात ईबादत के साथ गुजारे, साथ ही घरों में भी पर्व को लेकर तैयारी की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *