घर से दो देसी कट्टा एवं गोली बरामद, गृहस्वामी गिरफ्तार

– अन्य दो संदिग्धों की तलाश कर रही पुलिस
– ठाकुरगंगटी थाना के बाघाकोल गांव में छापेमारी के दौरान बरामद हुआ आग्नेयास्त्र
– ग्रामीणों ने गिरफ्तार गृहस्वामी को बताया निर्दोष
मुकेश / विजय की रिपोर्ट
महागामा/ मेहरमा: अनुमंडल क्षेत्र के ठाकुरगंगटी थाना अंतर्गत बाघाकोल गांव के एक घर में छापामारी करके रविवार की शाम पुलिस ने एक थैला में रखा दो देसी पिस्तौल एवं गोली बरामद किया है। पुलिस ने इस मामले में गृहस्वामी को गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया है। उधर ग्रामीणों ने गिरफ्तार गृहस्वामी को निर्दोष बताते हुए कहा है कि षडयंत्र पूर्वक घर में अवैध हथियार रख कर पुलिस द्वारा छापामारी कराई गई। ग्रामीणों ने इस मामले की उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की है।
सोमवार को महागामा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी कामेश्वर कुमार सिंह ने अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित पत्रकार वार्ता में जानकारी दी कि 26 दिसंबर को ठाकुरगंगटी थाना क्षेत्र के ग्राम बाघाकोल में अवैध अग्नेयास्त्र एवं गोली के साथ काला एवं सफेद रंग के सीडी डीलक्स मोटरसाइकिल से दो व्यक्ति के घूमने की सूचना मिली। इस सूचना पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के द्वारा ठाकुरगंगटी के थाना प्रभारी फुलेश्वर प्रसाद सिंह को आवश्यक मार्गदर्शन देते हुए उक्त सूचना का सत्यापन कर आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया ।
थाना प्रभारी सूचना के सत्यापन के क्रम में जब बाघाकोल पहुंचे तो पता चला कि दो अज्ञात व्यक्ति अरविंद महतो के घर पर एक आसमानी रंग का थैला रखकर गए हैं। इस सूचना पर थाना प्रभारी ठाकुरगंगटी के द्वारा अपने साथ के अन्य पुलिस पदाधिकारी एवं सशस्त्र बल के साथ अरविंद महतो के घर पर छापामारी की गई। तलाशी के दौरान घर में एक आसमानी रंग के थैले में रखा सिंगल बैरल का दो देसी पिस्तौल एवं .315 बोर का दो जिंदा गोली बरामद किया गया। जिसकी विधिवत जप्ती सूची बनाकर जब्त किया गया तथा गृहस्वामी अरविंद महतो को गिरफ्तार किया गया ।
इस संदर्भ में ठाकुरगंगटी थाना में कांड संख्या-75/2020, दिनांक 27/12/2020, भारतीय दंड विधान की धारा 25(1-बी)ए/26/35 आर्म्स एक्ट-1959 के तहत मामला दर्ज किया गया। प्राथमिकी अरविंद महतो, पे स्वर्गीय भागीरथ महतो ,साकिन बाघाकोल- 01, थाना- ठाकुरगंगटी, जिला गोड्डा एवं दो अन्य अज्ञात के विरुद्ध दर्ज किया गया है।
उधर, बाघाकोल के ग्रामीणों का कहना है कि षडयंत्र पूर्वक अरविंद महतो को फंसाया गया है। ग्रामीणों का कहना है कि 26 दिसंबर को दो व्यक्ति गांव में सोलर पंप लगाने की बात कह कर आए थे। उन दोनों ने अरविंद महतो से संपर्क कर सोलर पंप लगवाने कहा। बातचीत के क्रम में दोनों अज्ञात व्यक्ति अरविंद महतो के खेत पर गए। उसी दौरान एक अज्ञात व्यक्ति ने अपने पास का थैला अरविंद महत्व को देते हुए कहा कि इसमें उन दोनों का खाना है। घर में रख दो। कुछ देर के बाद आकर ले लेंगे। अरविंद महतो ने थैला अपने घर में रख दिया। दोनों अज्ञात चले गए। दोनों के जाने के करीब 10 मिनट के बाद ही पुलिस आ धमकी और अरविंद महतो के घर तलाशी ली। तलाशी के दौरान थैला में रखा दो देसी पिस्तौल एवं गोली बरामद किया गया।
ग्रामीणों ने इस संबंध में पुलिस को आवेदन भी दिया है। ग्रामीणों का कहना है कि गिरफ्तार अरविंद महतो बिल्कुल सीधा-साधा व्यक्ति है। अपराध की दुनिया से उसका दूर-दूर तक कोई रिश्ता नहीं है। षड्यंत्र कर उसके घर में देसी पिस्तौल रखकर उसे फंसाया गया है।
ग्रामीण सूत्रों के अनुसार, गिरफ्तार अरविंद महतो की गोड्डा प्रखंड के रंगमटिया गांव में जमीन है। उसके दो फरीक ने जमीन बिक्री का सौदा कर लिया है, जबकि अरविंद महतो जमीन बेचना नहीं चाहता है। अरविंद महतो के विरोध के कारण जमीन बिक्री का मामला अधर में लटक गया है। ग्रामीणों ने अंदेशा जताया है कि इसके कारण अरविंद महतो को सबक सिखाने के उद्देश्य से षडयंत्र पूर्वक उसके घर में आग्नेयास्त्र रखकर गिरफ्तार करवा दिया गया। ग्रामीण इस मामले में पुलिस की भूमिका को भी संदिग्ध बता रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि दोनों अज्ञात व्यक्तियों के थैला रखने के 10 मिनट के अंदर ही पुलिस का गांव आना और सीधे अरविंद महतो के घर छापामारी करना संदेह पैदा करता है। अंदेशा जताया जा रहा है कि षडयंत्र रचने वाले ने पुलिस से मिलीभगत करके अरविंद महतो को फसाने का कार्य किया है। इसलिए मामले की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए।