जेईपी उर्दू में हर दिन कंटेंट दे : उर्दू शिक्षक संघ

रांची : झारखंड राज्य उर्दू शिक्षक संघ द्वारा झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद के निदेशक एवं प्रशासी पदाधिकारी को मांग पत्र सौंपा . संघ के केंद्रीय महासचिव अमीन अहमद ने इस संदर्भ में जानकारी देते हुए बताया कि उर्दू विद्यालयों के लिए साप्ताहिक क्विज़ में उर्दू के प्रश्न, दैनिक कंटेंट एवं पाठ्य पुस्तक उपलब्ध कराने के संदर्भ में झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद से आग्रह किया गया है.
उन्होंने कहा कि झारखंड राज्य उर्दू शिक्षक संघ द्वारा पूर्व से ही उर्दू लिपि में ऑनलाइन शिक्षा हेतु पाठ्य अधिगम सामग्री उपलब्ध कराने का आग्रह किया जा रहा है. झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा इस संदर्भ में प्रयास भी किया गया और उर्दू लिपि में प्रत्येक बुधवार को शिक्षण अधिगम सामग्री का कंटेंट उपलब्ध कराया जाना प्रारंभ किया गया. जिसके लिए हमारी संघ परियोजना का शुक्रिया अदा करती है. परंतु दिए जा रहे उर्दू कंटेंट पर्याप्त नहीं है. हमारी संघ उर्दू लिपि से उर्दू भाषा एवं इतिहास, भूगोल, विज्ञान आदि विषयों का कंटेंट प्रत्येक दिन चाहती है, क्योंकि उर्दू विद्यालयों में उर्दू भाषा एवं लिपि के माध्यम से ही शिक्षा प्रदान की जाती है.
ऑनलाइन शिक्षा अंतर्गत डीजी साथ-2 में प्रत्येक शनिवार को क्विज़ के कंटेंट में उर्दू विद्यालयों के विद्यार्थियों के लिए उर्दू लिपि में प्रश्न नहीं दिये जाने से उर्दू भाषी विद्यार्थियों को कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है. इसलिए उर्दू विद्यालयों के लिए उर्दू भाषा के प्रश्न साप्ताहिक क्विज़ में शामिल करने की महती आवश्यकता है. इसी प्रकार उर्दू विद्यालयों में पढ़ने वाले तथा सामान्य विद्यालयों में पढ़ने वाले उर्दू भाषी विद्यार्थियों के लिए उर्दू भाषा के साथ-साथ अन्य सभी विषयों की पुस्तकें उर्दू लिपि में प्रकाशित कर उपलब्ध कराने की मांग की गई है. इससे विद्यार्थियों को उनकी मातृभाषा में शिक्षा आसानी से उपलब्ध हो सकेगी. इसके साथ ही ऑनलाइन शिक्षा अंतर्गत डीजी साथ-2 में उर्दू भाषी विद्यार्थियों के लिए राष्ट्रभाषा हिंदी (हिन्दी बी) विषय के कंटेंट नहीं दिए जा रहे हैं. इससे बच्चों की पढ़ाई उक्त विषय में नहीं हो पा रही है. इसलिए परियोजना से उर्दू लिपि में उपरोक्त पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया है.