राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता के लिए झारखंड की टीम में गोड्डा की बेटी जीनत परवीन चयनित

जावेद अख्तर की रिपोर्ट

हनवारा: गोड्डा जिले के सुदूरवर्ती क्षेत्र महागामा प्रखण्ड अंतर्गत परसा गांव की जीनत परवीन (18) का उत्तराखंड में होने वाले राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता के लिए झारखंड टीम चयन हुआ है। जीनत परवीन राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में झारखंड राज्य की अगुवाई करेंगी।
बताते चलें कि बीते 21 सितंबर को राज्य के रामगढ़ जिले के बड़काकानन में राज्यस्तरीय कराटे प्रतियोगिता में जीनत परवीन ने स्वर्ण पदक जीता था। स्वर्ण पदक हासिल करने के बाद ही स्पोर्ट्स कराटे एसोसिएशन ऑफ झारखंड के द्वारा राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता के लिए चयनित किया गया है।
मालूम हो कि जीनत परवीन महागामा प्रखंड के परसा गांव की रहने वाली है। उसका लक्ष्य उच्च शिक्षा के साथ साथ कराटे में भी अपनी प्रतिभा दिखाना है। उच्च शिक्षा की पढ़ाई के लिए वह दुमका में रहती है। वहीं कराटे की अभ्यास एवं क्लास करती थी। उसके अच्छे प्रदर्शन को देखते हुए बीते 21 सितंबर को रामगढ़ जिले में आयोजित राज्य स्तरीय कराटे प्रतियोगिता के लिए चयन हुआ, जहां उन्होंने स्वर्ण पदक जीतकर अपने जिले के साथ साथ माता पिता का भी नाम रौशन किया हैं।
जीनत के पिता नजाम शमीम एक शिक्षक हैं। वह बताते हैं कि जीनत काफी मेहनती एवं लगनशील है। उसमें हर चीज को सीखने की सलाहियत है। खेल के प्रति उसका जुड़ाव बचपन से ही रहा है। हमलोगों ने भी उन्हें खुलकर सहयोग किया है। आज हमलोगों को गर्व महसूस हो रहा है कि बेटियां भी वो सब कर सकती है जो काम बेटा नही कर सकता। जीनत ने अपने जिले के साथ साथ पूरे इलाके का नाम रौशन किया है।
जीनत ने बताया कि राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता की तिथि अभी तय नही हुई है। लेकिन स्थान का चयन हो चुका है। प्रतियोगिता उत्तराखंड में ही होगी। राष्ट्रीय कराटे प्रतियोगिता में चयनित होने से वह काफी खुश है। जीनत ने बताया कि उसके सफल होने का राज माता पिता का भरपूर सहयोग और आशीर्वाद है। उन्ही के आशीर्वाद से आज वह यहां तक पहुंची। इसलिए इसका सारा श्रेय उसके अभिभावकों को ही जाता है।