आर्चरी चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल विजेता का हुआ गम्हरिया में स्वागत

कांड्रा से के दुर्गा राव की रिपोर्ट
कांड्रा: जेआरडी टाटा स्पोर्ट्स कंपलेक्स में हुए 10 दिवसीय एनटीपीसी सीनियर नेशनल आर्चरी चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली दीप्ति कुमारी का स्वागत गम्हरिया के दुर्गा पूजा मैदान के पास छोटा गम्हरिया पंचायत समिति सदस्य अजीत सिंह ने किया lखिलाड़ी दीप्ति कुमारी के साथ उनके प्रशिक्षक रोहित कोइरी, बिरसा मुंडा आर्चरी सेंटर के चीफ कोच प्रकाश राम, सशस्त्र सीमा बल के चीफ कोच अमरजीत दुबे और कोच शिशिर महतो भी मौजूद थे l
जोन्हा के बिरसा मुंडा आर्चरी सेंटर से प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद कई बार पदक जीत चुकी दीप्ति कुमारी ने बताया यह कभी प्रशिक्षण केंद्र तक जाने के लिए उनके पास किराए के पैसे नहीं हो पाते थे उनके पिता पिकअप वैन चालक हैं लेकिन यह उनकी लगन का ही फल है कि आज वह राष्ट्रीय खेलों में स्वर्ण पदक हासिल कर चुकी है । वहीं प्रशिक्षक ने भी जानकारी देते हुए बताया कि 11 साल की छोटी सी उम्र में दीप्ति उनके पास प्रशिक्षण लेने आई थी और आज उनका तीर लक्ष्य को भेदने में कोई कसर नहीं छोड़ता है यह दीप्ति के लग्न का ही परिणाम है कि वह 7 बार से लगातार पदकों पर अपना कब्जा जमाए हुई है आपको बता दें कि रिकर्व एकल महिला के इस प्रतियोगिता में 2014 को छोड़कर पिछले 7 बार की चैंपियन दीपिका कुमारी क्वार्टर फाइनल में थम गया । अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी अंकिता भगत अंतिम आठ तक ही सीमित रही और फाइनल में अंतरराष्ट्रीय चैंपियन कोमोलिका बारी को 7-3 से हराकर स्वर्ण पदक जीती ।
किसी अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी को हराकर राष्ट्रीय खेल में स्वर्ण जीतना सिर्फ दिप्ती के लिए ही नहीं बल्कि पूरे तीरंदाजी सेंटर के लिए गौरव की बात है। इस मौके पर अमित सिंहदेव, विवेक कुमार बंटू, प्रभात रंजन, राहुल सिंह, पुष्पा टूडू, दिनेश महतो, सरोज पांडे अभिषेक मिश्रा, अमरजीत सिंह कृष्णा सिंह, शिक्षक ए. के. मंडल, विवेक कुमार, दिनेश महतो, केशव महतो समेत कई लोग सम्मिलित हुए