गढ़वा से लिए खुशखबरी: ऑक्सीजन प्लांट लगाने की तैयारी शुरू

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट

गढ़वा : कोरोना महामारी के दूसरे कहर के बीच गढ़वा जिले के लिए एक अच्छी खबर है कि जिला मुख्यालय में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। अभी तक सरकार अन्य राज्यों के प्लांटों से अस्पतालों की मांग को पूरा कर रही है। अब सरकार ने फैसला किया है कि जिलों में ऑक्सीजन निर्माण के प्लांट लगेंगे।
गढ़वा जिले में इसकी शुरूआत करते हुए ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए मशीन पहुंच गयी है. सबकुछ ठीक ठाक रहा तो जल्द गढ़वा जिला आक्सीजन के मामले में आत्मनिर्भर हो जाएगा.
इससे पहले कोरोना की पहली लहर के दौरान सरकार ने प्रदेश के जिलों में मेडिकल ऑक्सीजन प्लांट लगाने के लिए टेंडर जारी किए थे. लेकिन महामारी के कमजोर होते ही सरकारी तंत्र ने ध्यान देना बंद कर दिया था। यह कदम कोरोना से लड़ने के लिए गढ़वा सहित पूरे झारखंड में आत्मनिर्भर बनने की दिशा में बढ़ाया गया बड़ा कदम है।
गढवा सिविल सर्जन कमलेश कुमार ने बताया कि अभी मशीन यहां आयी ही है. इसकी क्या प्रकिया है. कैसे बनेगा? कितना बनेगा ये सारी बात चीफ इंजीनियर से पता की जा रही है. ऐसे गढ़वा में प्रतिदिन आक्सीजन सिलेंडर की खपत सदर अस्पताल में बड़ा वाला जम्बू 3 सिलेंडर और छोटा 8 सिलेंडर होता है.
इधर झामुमो के जिला प्रवक्ता धीरज धीरज दुबे ने बताया बताया कि इस पहल के लिए मंत्री मिथिलेश ठाकुर को जिले की समस्त जनता की ओर से आभार है। मंत्री का इसमें सबसे बड़ा योगदान रहा। मंत्री मिथलेश ठाकुर की यही विशेषता है कि वह गढ़वा की जरूरत को स्वतः भांप लेते हैं और बिना देर किए संसाधनों को उपलब्ध कराने में सहभागिता देते हैं।विकास कार्यों में उनकी तरफ से कोई कमी नहीं रहती।