नियम बदले सरकार, नहीं तो साइकिल से वंचित हो जायेंगे एसी व एसटी समुदाय के बच्चे: सुभाष

जामताड़ा: जिले में वित्तीय वर्ष 2020- 21 और 21- 22 दोनों सत्र के बच्चों को साइकिल मिलने का प्रक्रिया चल रही है. वर्ग अष्टम और नवम के एसटी एससी एवं पिछड़ा जाति और अल्पसंख्यकों के बच्चों को साइकिल मिलेगा. अल्पसंख्यक जाति बच्चों को छोड़कर सभी जाति के बच्चों को जाति प्रमाण पत्र आवेदन के साथ जमा करना होगा तभी जाकर साइकिल मिलेगा. समाजसेवी सुभाष मिर्धा ने कहा की अल्पसंख्याक जाति के बच्चों को बिना जाति प्रमाण पत्र से ही साइकिल मिलेगा, तो ठीक उसी प्रकार अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति एवं पिछड़ा जातियों के बच्चों को भी बिना जाति प्रमाण पत्र के ही साइकिल मिलना चाहिए. क्योंकि पूर्व में अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति के बच्चों को जाति प्रमाण पत्र के बिना साइकिल मिलते आ रहे थे. परंतु हेमंत सरकार ने यह एक नया नियम निकालकर अनुसूचित जनजाति अनुसूचित जाति एवं पिछड़ा जातियों को बच्चों को साइकिल से वंचित करने का फरमान जारी किया है. क्योंकि सभी बच्चे हैं समय पर जाति प्रमाण पत्र नहीं निकाल सकते हैं. सुभाष मिर्धा ने कहा कि बहुत ही जल्द एक प्रतिनिधिमंडल जिले के उपायुक्त एवं जिला शिक्षा पदाधिकारी और जिला कल्याण पदाधिकारी से मिलकर एक ज्ञापन राज्यपाल के नाम पर सौंपेंगे.