समृद्धशाली झारखंड की परिकल्पना को साकार करें सरकार : संघर्ष मोर्चा

रांची:  झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा ,देवघर जिला के तत्वावधान में आज हथगड़ में एक दिवसीय सम्मेलन सह झारखंड आंदोलनकारी चिन्हितीकरण आयोग के नव मनोनीत सदस्य नरसिंह मुर्मू का अभिनंदन कार्यक्रम का आयोजन किया गया।
इस मौके पर वक्ताओं ने कहा कि सरकार चिन्हितीकरण का कार्य समयबद्ध व वचनबद्धता के साथ करे। झारखंड आंदोलकारियों की भावनाओ के अनुरूप इस राज्य को गढ़े और समृद्धशाली झारखंड की परिकल्पना को साकार करे। राज्य में दिकू तंत्र झारखंड आंदोलकारियों का,राज्य के लोगों के विकास व कल्याणकारी योजनाओं तथा नीति का घोर विरोधी हैं। सरकार ऐसे दिकू तंत्र के लोगो को चिन्हित कर राज्य बदर करे। वक्ताओं ने झारखंड आंदोलनकरियो से आह्वान किया कि मान,सम्मान,पेंशन,नियोजन व पहचान के लिए जान लड़ा दो का आह्वान किया। सरकार लोक गायिका व झारखंड आंदोलनकारी सीमा देवी ने आह्वान गीत प्रस्तुत कर आंदोलकारियों को एक और आंदोलन के लिए प्रेरित किया। मोर्चा के जर्मन बसकी,किशोर किस्कू,पुष्कर महतो,प्रफुल्ल ततवा,किकर चौहान,सलीम मिया,विजय कोल्ह,भूपेन सिंह,संजू देवी,रूसी लाल सोरेन सुखदेव हेम रोम,कामदेव सोरेन, पंकज मंडल ,दिलीप गोस्वामी ,गोपाल रवानी ने विचार वक्त किया।

शंकर टुडू अध्यक्ष चुने गए

सम्मेलन में सुरेन्द्र रवानी को केंद्रीय सचिव,शंकर टुडू को देवघर जिला अध्यक्ष,त्रिवेणी वर्मा प्रधान महासचिव,उपाध्यक्ष प्रभु नारायण रवानी,प्रवक्ता सह मीडिया प्रभारी अंग्रेज दास,
कोष्ध्यक्ष सोहन हेम रोम,सचिव राजेंद्र मुर्मू,संयोजक बलदेव रवानी को सर्वसम्मति से चुना गया।
कार्यक्रम की अध्यक्षता व संचालन शंकर टुडू व धन्यवाद ज्ञापन ब्रजेश पंडित ने किया।
आंदोलन मेरे घर से हुआ है मुर्मू

मेरे घर से झारखंड आंदोलन हुआ : मुर्मू

झारखंड आंदोलनकारी चिन्हित ती करण आयोग के नव मनोनीत सदस्य नरसिंह मुर्मू झारखंड आंदोलनकारियो से सम्मान पाकर अल्हादित हुए। उन्होंने कहा कि झारखंड आंदोलनकारियों के दर्द को नजदीक से देखा है और आंदोलन की एक एक बातों से वाकिफ हूं । गुरुजी भी मेरे साथ रहे है। सभी के साथ न्याय होगा कोई निराश नहीं होगें।