खुदरा व थोक व्यापार को एमएसएमई सेक्टर से जोड़ना सरकार का ऐतिहासिक कदम : मनोज चौधरी

सराईकेला। कंफडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) के सरायकेला खरसावां जिला जिला प्रतिनिधि एवं चेम्बर्स ओफ कोमर्स के महासचिव मनोज कुमार चौधरी ने इस फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि मोदी सरकार द्वारा खुदरा व थोक व्यापार को एमएसएमई सेक्टर से जोड़ना सरकार का ऐतिहासिक कदम है। इससे देश के करोड़ों व्यवसायी एमएसएमई सेक्टर से जुड़ गए हैं। कैट व अन्य व्यापारिक संगठन इसकी मांग लंबे समय से कर रहे थे। मनोज चौधरी ने सभी व्यापारियों की ओर से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी का आभार व्यक्त किया। केंद्रीय वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल का भी विशेष रूप से आभार व्यक्त किया जिन्होंने इस निर्णय में व्यापारियों के वकील बनकर दृढ़ता से एक उत्प्रेरक की भूमिका निभाई।
इस फैसले से कोविड महामारी के दौरान सरकारी बंदिशों से बुरी तरह से प्रभावित व्यापारी जो अब बैंकों से आवश्यक वित्त प्राप्त करके अपने व्यवसाय को फिर से खड़ा कर पाने में सक्षम होंगे। इन व्यापारियों को बैंक पहले लोन देने में आनाकानी करती थी। सरकार का यह कदम न केवल अर्थव्यवस्था को बल्कि भारत के सबसे जीवंत खुदरा व्यापार को पुनर्जीवित करने की दिशा में एक मील का पत्थर साबित होगा। इस फैसले ने 250 करोड़ रुपए तक का कारोबार करने वाले छोटे खुदरा एवं थोक विक्रेताओं पर तत्काल लाभ मिलेगा और उन्हें आत्मनिर्भर भारत कार्यक्रम के तहत घोषित विभिन्न योजनाओं के तहत तत्काल लोन मिल सकेगा।