ग्राम प्रधानों ने किया बैठक, चितलोफार्म में डैम के लिए अधिग्रहित जमीन रैयतों को वापस लौटाने का किया आग्रह

लिट्टीपाड़ा : प्रखंड अंतर्गत मोहनपुर गांव में मोहनपुर गांव के ग्राम प्रधान राजाधन सोरेन की अध्यक्षता में ग्रामीणों की बैठक हुई जिसमें मंच का संचालन देवीलाल हेम्ब्रम के द्वारा किया गया।बैठक में एकजुटता के साथ तोड़ाई जलाशय परियोजना के अंतर्गत चितलोफार्म में डैम के लिए अधिग्रहित जमीन रैयतों को वापस लौटाने का आग्रह किया।सभी लोगों ने एक स्वर में कहा कि डैम के नाम पर किसी ने भी किसी से पैसा नहीं लिया है। हमारे पूर्वजों से बहला-फुसलाकर यहां के जमीन डैम बनाने के नाम पर अधिग्रहित किया गया था। तब से आज तक प्रशासन विस्थापन होने के नाम से हमारी लगान नहीं ले रही है। हम सरकार के साथ हैं, सरकार का राजस्व को क्षति नहीं पहुंचाना चाहते हैं इसलिए सरकार हमारे लगान रसीद काटे और नियम संगत कार्रवाई करते हुए गलत रूप से हमारे पूर्वजों द्वारा अधिग्रहित जमीन को वापस दिलाएं। इस बैठक में मुख्य रूप से एसपी कॉलेज के प्रोफेसर निर्मल मुर्मू मौजूद थे। उन्होंने उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी कीमत पर यहां किसी को विस्थापन होने नहीं दिया जाएगा। हम आपके साथ कदम ताल कदम मिलाकर चलेंगे। उन्होंने कहा यहां गलत तरीके से लोगों को बहला-फुसलाकर डेम बनाने को लेकर के राजी किया गया था। लेकिन वर्तमान पीढ़ी सजक है और पढ़ा लिखा है इसका पुरजोर विरोध करती है।बैठक में इस लड़ाई को आगे बढ़ाने के लिए विस्थापन संघर्ष मोर्चा के नाम से एक कमेटी का भी गठन किया गया जिसका अध्यक्ष देवी मुर्मू को बनाया गया है सदस्य के रूप में प्रभावित सभी गांव के ग्राम प्रधान साथ ही प्रभात गांव के सभी गांव से एक एक उपाध्यक्ष एवं एक एक सह सचिव को बनाया गया है। बैठक में लिट्टीपाड़ा विधानसभा के पूर्व प्रत्याशी दानियाल सोरेन, स्थानीय पूर्व जिप सदस्य शिवचरण मालतो, स्थानीय मुखिया शिलवानुष टुडू, दिनेश मुर्मू, हेमलाल मराण्डी,हिरोशील टुडू, राजेंद्र मुर्मू, आरटीआई कार्यकर्ता अमित कुमार दास स्टीफन टुडू मोती लाल मरांडी रामदास टूडू समेत डुमरहीर, चोथरो, कुमारभाजा, चितलोफॉर्म, बैजनाथपुर, सूरजबेड़ा, निपानिया, आदि दर्जन भर गांवों से आये ग्राम प्रधान और ग्रामीणों उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *