ग्रामीण बैंक के अधिकारी एवं कर्मी 27 को रहेंगे हड़ताल पर

– तीन दिन लगातार बंद रहेंगे बैंक
गोड्डा: ग्रामीण बैंकों की सबसे बड़ी यूनियन ऑल इण्डिया रीजनल रूरल बैंक इम्पलाइज एसोसिएशन के आह्वान पर 27 सितंबर 2021 को अखिल भारतीय हड़ताल के तहत देश के सभी ग्रामीण बैंक बंद रहेंगे। इसके अंतर्गत झारखंड राज्य स्थित झारखंड राज्य ग्रामीण बैंक के अधिकारी एवं कर्मचारी भी हड़ताल पर रहेंगे।
झारखंड राज्य ग्रामीण बैंक अधिकारी संघ एवं कर्मचारी संघ द्वारा हड़ताल को ऐतिहासिक रूप से सफल बनाने की तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। झारखंड राज्य ग्रामीण बैंक कर्मचारी संघ के क्षेत्रीय सचिव नितेश कुमार मिश्रा ने बताया कि केंद्र सरकार क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक में भारत सरकार का स्वामित्व, जो अभी तक 50 प्रतिशत है, उसे पूरा प्रायोजक बैंकों को देना चाहती है। और आगे जाकर प्रायोजक बैंकों का निजीकरण कर क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों का अस्तित्व मिटा देना चाहती है। पूरे देश में इस समय क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों की कुल 22000 शाखाएं कार्यरत है। तथा सरकार की लगभग 35 से ज्यादा योजनाओं को ग्रामीण क्षेत्र में लागू करने में इनकी अहम भूमिका रही है।
नितेश मिश्रा ने बताया कि हमारी मुख्य मांगों में ग्रामीण बैंको में लगे भारत सरकार के 50 प्रतिशत शेयर को प्रवर्तक बैंकों को बेचने से रोकना, देश के अलग अलग राज्यों के अलग अलग ग्रामीण बैंको को मिलाकर एक राष्ट्रीय ग्रामीण बैंक की स्थापना, नये युवा बैंक कर्मियों को भी पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिलाना, अन्य व्यावसायिक बैंकों में लागू 11 वें वेतन समझौता को ग्रामीण बैंकों मे भी एक समान लागू करना समेत अन्य मांगे शामिल हैं।