53 केजी के कुश्ती प्रतियोगिता में भाग ले वापस आने पर हुआ भव्य स्वागत

सिसई:  प्रखंड के मंगलो गाँव निवासी एतवा उरांव की पुत्री वीणा उरांव ने 53 किलो वजन नेशनल कुश्ती प्रतियोगिता के लिए गुमला
जिला से भारत सरकार के द्वारा आयोजित अमृत महोत्सव एवं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्म दिन के शुभ अवसर पर 17 सितम्बर से 19 सितम्बर तक चलने वाला राष्ट्रीय कुश्ती प्रतियोगिता 2021 का आयोजन अमेठी उत्तर प्रदेश में किया गया था,जिसमें 53 किलो वाली वजन प्रतियोगिता मे वीणा उरांव का भिड़ंत उडीसा के प्रतिद्वंदी पहलवान से हुवी थी परंतु वीणा हार गई।लेकिन उनके गाँव लौटने पर हौसला उपजाई को लेकर 22 सितम्बर को कार्तिक उरांव आदिवासी कुंडुख़ विद्यालय मंगलो के द्वारा भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया गया था।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक जिगा सुसारन
होरो और रांची के जाने माने कुंडुख़ एक्टिंग सिंगर अंकिता बेक को आमंत्रित किया गया था जहां पहलवानी वीणा उरांव को अतिथि के द्वारा गुलदास्ता देकर सम्मानित करते हुवे विधायक ने कहा कि अगर मन मे लगन हो तो हर कार्य असान हो जाता है जिसका उदहारण मंगलो गाँव के एक गरीब घर से निकल कर राष्ट्रीय खेलों तक पहुँचना ये गर्व की बात है।वीणा उरांव को खेल में आगे बढ़ने के लिए हरसंभव मदद करने की आश्वासन भी विधायक ने दिया।
साथ ही विद्यालय के छात्र छात्राओं के लिए दो सेट जरसी का वितरण भी विधायक के द्वारा किया गया।
वहीं एक्टर अंकिता बेक ने कहा कि छात्रों को पढाई लिखाई के साथ साथ खेल पर भी बिशेष ध्यान देंना चाहिए ताकि स्वास्थ्य के साथ साथ कैरियर बनाने का मौका मिलता है।उन्होंने ये भी कहा कि कम उम्र में शादी नहीं करना चाहिए बल्कि पहले कैरियर बनाने पर ध्यान दे।
अंकिता बेक ने वीणा उरांव को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना भी की।
वीणा उरांव पांच बार अलग अलग राज्यों में नेशनल कब्बडी खेल में प्रतिभागी बन चुकी है और दो बार झारखंड को कास्य पदक का मेडल भी दिला चुकि है।
वीणा उरांव के पिता जी ने कहा कि धान बेच बेच कर वीणा उरांव की पढ़ाई लिखाई का खर्च पुरा कर रहे हैं गरीबी के कारण दो बार तो इसके साथी खिलाड़ियो ने ही टिकट करा दिया था।मौके पर कार्यक्रम में ग्राम प्रधान भुज्जु पहान, अरविंद उरांव, जागो उरांव राजु उरांव गजेंद्र उरांव शंक्राति कुमारी सोमा उरांव परमेश्वर उरांव मंगरा उरांव एंव वीणा उरांव के सपरिवार सहित बिधालय के सभी शिक्षक गण उपस्थित थे।