गुमला जिला में केंद्र सरकार द्वारा लॉकडाउन 3.0 में दी गई रियायतों को लागू नहीं किया जाएगा : उपायुक्त

वर्तमान में लॉकडाउन 2.0 में दिये गये निर्देशों के अनुरूप ही कार्य किए जाएंगे- उपायुक्त
गुमला से बसंत गुप्ता

गुमला. वैश्विक महामारी घोषित नोवल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के मद्देनजर देशव्यापी लॉकडाउन की अवधि 17 मई 2020 तक विस्तारित की गई है।

उपायुक्त सह जिला दंडाधिकारी शशि रंजन ने लॉक डाउन 3.0 के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना वायरस के बढ़ते हुए प्रकोप एवं इसके संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम हेतु केन्द्र सरकार के द्वारा 17 मई तक लॉक डाउन को विस्तारित किया गया है। साथ ही लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए केन्द्र सरकार द्वारा लॉकडाउन 3.0 में कुछ रियायतों की घोषणा भी की गयी है। परन्तु राज्य सरकार ने लॉकडाउन अवधि में दूसरे राज्यों में फंसे हुये श्रमिकों, छात्रों एवं अन्य लोगों के बड़ी संख्या में वापस लौटने की वजह से एहतियात के तौर पर 17 मई तक लॉकडाउन पूर्ववत लागू रखने का निर्देश दिया है।

इसी निमित गुमला जिला में केंद्र सरकार द्वारा लॉकडाउन 3.0 में दी गई रियायतों को लागू नहीं किया जाएगा। वर्तमान में लॉकडाउन 2.0 में दिये गये निर्देशों के अनुरूप ही कार्य किए जाएंगे। उपायुक्त ने आगे कहा कि किसी को भी इससे घबराने की जरुरत नहीं है क्योंकि सभी आवश्यक सेवाएं पूर्व की तरह ही चालू रहेंगी व सभी आवश्यक सामग्रियाँ पूर्व की हीं भाँति सुलभ होंगी। आप सभी के सहयोग हेतु जिला प्रशासन के द्वारा हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

उपायुक्त ने सभी जिलावासियों से अपील किया है कि परीक्षा की इस घड़ी का सभी पूरे धैर्य एवं दृढ़ इच्छाशक्ति के साथ सामना करें। लॉकडाउन की वजह से हम सभी को कठिनाई अवश्य हो रही है परंतु कोरोना महामारी से लोगों की जान बचाने के लिए यह आवश्यक है। इसके साथ ही उन्होंने लोगों से लॉकडाउन के निर्देशों का शत- प्रतिशत अनुपालन करने की भी अपील की।