गुमला जिले में कोरोना टीकाकरण का दूसरा चरण 4 से 14 अप्रैल तक

गुमला: उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में कोविड-19 टीकाकरण अभियान, टीकाकरण की अद्यतन स्थिति तथा जिले में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार के रोकथाम के मद्देनजर स्वास्थ्य विभाग के साथ बैठक का आयोजन आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय प्रकोष्ठ में किया गया।
बैठक में उपायुक्त ने कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार के रोकथाम के उद्देश्य से जिला मुख्यालय सहित सभी प्रखंडों में संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी/ अंचलाधिकारी/ थाना प्रभारियों के नेतृत्व में मास्क चेकिंग अभियान चलाने का निर्देश दिया। इस संबंध में उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी/ अंचलाधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को प्रत्येक कार्यदिवस में मास्क चेकिंग अभियान चलाकर मास्क का उपयोग नहीं करने वाले व्यक्तियों से जुर्माना वसूलने का सख्त निर्देश दिया। उन्होंने यह अभियान विशेष तौर पर जिले के सभी सार्वजनिक स्थलों यथा चौक-चौराहों, बाजार-हाटों, सभी व्यवसायिक प्रतिष्ठानों व सभी भीड़-भाड़ वाली जगहों पर चलाने का निर्देश दिया। इसके अतिरिक्त उन्होंने मास्क चेकिंग अभियान कार्य हेतु आवश्यक दंडाधिकारियों की प्रतिनियुक्ति किए जाने का भी निर्देश दिया। इसके साथ ही भीड़-भाड़ वाली जगहों, विशेषकर बाजारों, साप्ताहिक हाटों एवं सार्वजनिक परिवहन स्थलों पर संक्रमण के प्रसार को रोकने के दृष्टिकोण से सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित करने पर जोर दिया गया।
उपायुक्त ने वर्तमान में कोरोना पॉजिटिव होने वाले व्यक्तियों का कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग, टेस्टिंग तथा आवश्यक ट्रीटमेंट सुनिश्चित करवाने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया। इसके साथ ही उन्होंने कोविड-19 श्रृंखला के प्रसार को रोकने हेतु फेस मास्क के उपयोग तथा कोविड समुचित व्यवहार के अनुपालन की आवश्यकता पर विशेष जोर देते हुए जिले के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी कार्यालयों के कार्यालय प्रधानों को कार्यालय परिसर में आने-जाने वाले व्यक्तियों से नो मास्क नो इन्ट्री का सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने पूर्व में केंद्र एवं राज्य सरकार से प्राप्त कोविड-19 के सभी दिशा-निर्देशों का जिले में सख्ती से अनुपालन सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया।
बैठक में उपायुक्त ने कोरोना के बढ़ते प्रसार के बीच विगत दिनों जिले के कस्तूरबा गाँधी बालिका विद्यालय में बाहर से आए संक्रमित शिक्षकों के बाद कई छात्राएं भी संक्रमित पाई गई थी। इस स्थिति को देखते हुए उन्होंने जिले के सभी सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालयों जहाँ शिक्षकों एवं कर्मियों की उपस्थिति पाई जा रही है, वहाँ सभी शिक्षकों एवं कर्मियों को अनिवार्य रूप से अपना कोविड-19 टेस्ट कराने का निर्देश दिया। इसके साथ ही सरकारी विद्यालयों के कक्षा 09 से 12वीं के विद्यार्थियों का भी कोविड जाँच कराने का निर्देश दिया। इसके साथ ही अपर समाहर्त्ता ने सभी विद्यालयों में कोरोना से बचाव हेतु मास्क, हैंड सैनेटाइजर, हैंड वॉश आदि संधारित करने, झारखंड सरकार द्वारा पूर्व में कोरोना वायरस से बचाव के निमित जारी किए गए सभी आवश्यक दिशा-निर्देशों तथा बच्चों में कोविड समुचित व्यवहार अनुपालन हेतु जिला शिक्षा पदाधिकारी को उचित मार्गदर्शिका निर्गत करने का निर्देश दिए। वहीं उपायुक्त ने सिविल सर्जन को जिले में अवस्थित सभी क्वारनटाईन केंद्रों की साफ-सफाई सुनिश्चित करने का भी निर्देश दिया।
बैठक में उपायुक्त ने विशेष कोविड-19 टीकाकरण अभियान की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने जिले में कोविड-19 वैक्सिन के डोज की जानकारी प्राप्त की। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बताया गया कि वर्तमान में जिले में लगभग 500 वाईल कोवैक्सिन के तथा कोविशील्ड के कुल 24053 वाईल संधारित हैं। उपायुक्त ने टीकाकरण अभियान में कुल टीका पाने वाले व्यक्तियों की संख्या प्रतिवेदित करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिय़ा।
बैठक में सिविल सर्जन द्वारा बतया गया कि आगामी 01 अप्रैल 2021 से कोविड-19 टीकाकरण में 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के सभी लाभार्थियों का टीकाकरण किया जाना है।

उक्त के संबंध में विशेष टीकाकरण अभियान अंतर्गत निम्नवत् कार्यक्रम तैयार किए गए हैं :-

• 04-05 अप्रैल 2021

• 07-08 अप्रैल 2021

• 10-11 अप्रैल 2021

• 13-14 अप्रैल 2021
उक्त के क्रम में उपायुक्त ने समुचित माईक्रो प्लानिंग, योग्य लाभुकों यथा 45 वर्ष से अधिक आयुवर्ग के लोगों को पूर्व चिन्हित करते हुए उनके नजदीकी कोविड-19 टीकाकरण केंद्र तक लाने हेतु व्यापक प्रयास किए जाने पर विशेष जोर दिया। उन्होंने कोविड-19 वैक्सिनेशन का व्यापक प्रचार-प्रसार सुनिश्चित करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया। उपायुक्त ने 04-05 अप्रैल 2021 को आयोजित होने वाले विशेष टीकाकरण अभियान के पूर्व दिनांक 02 अप्रैल को सभी वी.एल.ई का प्रशिक्षण कराकर उन्हें लाभुकों के पंजीकरण, सत्यापन तथा टीकाकरण से संबंधित सभी आवश्यक जानकारी प्रदान करने का निर्देश स्वास्थ्य विभाग को दिया।
उपस्थितिबैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा सहित, सिविल सर्जन डॉ. विजया भेंगरा, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, अपर समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता एवं अन्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *