हद हो गई हेमंत सरकार, अब तो खोलो छिन्नमस्तिका मंदिर का द्वार: राजीव जसवाल

15 सितम्बर तक मंदिर नहीं खुला तो रजरप्पा के पंडा व दुकानदार 16 सितम्बर को विरोध स्वरूप स्वेच्छा से करेंगे पूजा अर्चना सहित सभी दुकान बंद

रजरप्पा(रामगढ़): छिन्मस्तिका मंदिर सहित झारखंड के सभी मंदिरों का पट अगले 15 सितंबर तक राज्य सरकार खोलने का आदेश नहीं देती है तो 16 सितंबर को रजरप्पा के पंडा व दुकानदार विरोध स्वरूप स्वेच्छा से पूजा सहित सभी दुकान बंद करेंगे। उक्त बातें रविवार को भाजपा रामगढ़ विधानसभा के युवा नेता राजीव जायसवाल ने रजरप्पा मंदिर पहुचकर कहा। उन्होंने कहा कि हमलोग लगातार मंदिर खोलने की मांग को लेकर आन्दोलन कर रहे हैं। लेकिन सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। पिछ्ले दिनों हुई आपदा प्रबंधन की बैठक में हमलोगो को उम्मीद थी कि मंदिर खोलने का निर्देश दिया जायेगा। लेकिन सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट का हवाला देते हुए यह कहकर टाल दिया की उसका अध्ययन कर हम मंदिर खोलने पर विचार करेंगें। उन्होंने राज्य सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि झारखण्ड छोड़कर देश के सभी राज्य में मंदिर खुल गए है। फिर भी हेमंत सरकार को मंदिर खोलने मे आपत्ति क्यों है? आख़िर हिंदुओ की आस्था के साथ खिलवाड़ कब तक, सरकार के इस तुष्टीकरण नीति से हिंदुओ में आक्रोश बढ़ता जा रहा है। जहां पे हमारी धर्म की बात होगी, आस्था ओर परंपरा के साथ खिलवाड़ किया जाएगा तो हम सरकार से भी लोहा लेने को तैयार है। उनहोने आगे कहा की छिन्मस्तिका मंदिर जहां लाखों लोगो के आस्था का केंद्र है तो वहीं मंदिर के माध्यम से हज़ारों परिवारों का जीवन यापन होता है। पिछले कई महीनों से मन्दिर बंद होने के कारण इनकी स्थिति काफी दयनीय हो गई। जिससे सभी पंडा समाज के लोग व सभी दुकानदारों, फल फूल विक्रेता , नाई, नाविक ने हेमन्त सरकार के खिलाफ काफ़ी आक्रोश व्यक्त किया और 15 सितंबर तक का समय दिया है अन्यथा सभी ने स्वेक्षा से विरोधस्वरूप 16 सितंबर को सामूहिक रुप से रजरप्पा मंदिर बंद की घोषणा की है। मौके पर रजरप्पा मंदिर के वरिष्ट पुजारी अजय पंडा, छोटू पंडा, भाजपा रामगढ़ के पूर्व जिलध्यक्ष चन्द्र शेखर चौधरी, वरिष्ट भाजपा नेता संतोष तिवारी, सन्तोष पंडा, ब्रर्जेश पंडा, छोटन पंडा, विप्लव पंडा, राकेश पंडा, रंजीत पंडा, रितिक पंडा, प्रभात पंडा, सुमीत सिंह, सुरेश महतो, सुनील यादव, नयन चटर्जी, अशोक करमाली, सन्नी साव, बिट्टू रजक, प्रकाश बेदिया सहित प्रीतम झा, कृष्णा केवट , छोटू केवट, दीपक सिंह, सहित कई दुकानदार मौजूद थे।