चतरा: हाथियों के झुंड ने टंडवा में महिला को कुचला, मौत, कई घरों को किया क्षतिग्रसत

वन विभाग ने मृतका के पति को दिया सहायता राशि
टंडवा(चतरा)। जिले के टंडवा थाना क्षेत्र अंतर्गत पदमपुर के बरवाटोली में 10 हाथियों का झुंड अचानक बिते देर रात्रि प्रवेश कर जमकर उत्पात मचाया। इस दौरान हाथियों का झुंड झालो तुरी के घर के पास पहुंचा गया, तो घर के सदस्य झुंड़ देखकर शोर मचाते हुए छत पर चले गए। जबकी जमुनी देवी 65 वर्ष वृद्धा को कुछ समझ नहीं आया और वो दरवाजा खोल बाहर निकल गई, तभी हाथियों ने उसे जमीन पर पटककर मार डाला। उसके बाद हाथियों के झुंड ने मृतका के बेटे स्व. पिंटु तुरी के अलावे बसंती देवी, परशु भुइयां और जुगल भुइयां के घर को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। उसी दौरान बसंती देवी घायल हो गई, जिसका समुचित इलाज स्वास्थ्य केंद्र टंडवा में किया जा रहा है। घटना की सूचना मिलते ही बुधवार के सुबह सीओ आशुतोष ओझा, पुलिस इंस्पेक्टर प्रमोद पांडेय, रेंजर मुक्ती प्रकाश पन्ना व भाजपा मंडल अध्यक्ष गोविंद तिवारी गांव पहुंच कर घटना का जायजा लिया। वहीं पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्मॉर्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। जबकी मौके पर ही रेंजर ने सरकारी प्रवधान के अनुसार मृतक के आश्रित को चार लाख रुपए मुआवजा देने की बात कही और तत्काल मृतका के पति को 50 हजार रुपए सहायता के रूप में दिया। इस दौरान भाजपा मंडल अध्यक्ष ने कहा कि सितंबर 2020 में मृतका के पुत्र पिंटु तुरी की मौत धनगडा घाटी में अज्ञात कोल वाहन की चपेट में आने से हो गई थी, लेकिन उसकी विधवा को अब तक मुआवजा नहीं मिली, जिससे उसके समक्ष भुखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है। इस दौरान विष्णु साहु, महावीर साहु, विजय साहु, शिव प्रसाद गुप्ता, रंजीत गुप्ता, राजेश पुरी, दशरथ पुरी, पुनीत एवं संतोष सिंह सहित अन्य मौजूद थे।