हिंडालको बेरोकटोक माइनिंग एक्ट व सीएसआर का उल्लंघन तथा अवैध उत्खनन करने में लगी है : JND

गुमला:  झारखंड नवनिर्माण दल से जुड़े बॉक्साइट माइन्स रैयत मजदूर समिति के बैनर तले गुमला उपायुक्त के समक्ष हिंडालको कंपनी होश में आओ , माइंस क्षेत्र में स्कूल , अस्पताल , पेयजल , सड़क , सिंचाई का साधन बनाना होगा , माइनिंग एक्ट व सीएसआर का उल्लंघन नहीं चलेगा , बॉक्साइट का अवैध उत्खनन बंद करो जैसे नारे के साथ विरोध प्रदर्शन की गई । विरोध प्रदर्शन की अगुवाई समिति के अध्यक्ष प्रकाश उरांव व सचिव आदित्य सिंह कर रहे थे । नेताओं ने कहा कि 40 साल बाद भी हिंडालको सीएसआर के तहत स्कूल , अस्पताल , सड़क , पेयजल इत्यादि सुविधा माइंस क्षेत्र के लोगों को नहीं दी है । स्थानीय सांसद – विधायक , मंत्री से मिल बांटकर सीएसआर की राशि को बंदरबांट किया जा रहा है । यही कारण है कि माइंस क्षेत्र के गरीब आदिवासी लोग आज भी फटे हाल स्थिति में हैं । विरोध प्रदर्शन के बाद उपायुक्त को माँग – पत्र सौंप कर माइनिंग एक्ट व सीएसआर के उल्लंघन की तथा अवैध उत्खनन की जांचोपरांत कार्रवाई नहीं होने की स्थिति में 21 सितंबर 2021 को बिशुनपुर प्रखंड मुख्यालय में आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए भंडाफोड़ कार्यक्रम करने की चेतावनी दी है ।
कार्यक्रम में प्रकाश उरांव , आदित्य सिंह , प्रदीप मुंडा , रामलाल असुर , पूरन भगत , कामेश्वर बिरीजिया , लालदेव बिरीजिया , अमरेश उरांव , धनु महतो , सुखराम पहान , संजय उरांव के अलावा काफी संख्या में भारी बारिश के बावजूद रैयत व मजदूर उपस्थित थे ।