मोदी सरकार के किसान मजदूर विरोधी नीतियों के विरोध में 27 सितंबर को ऐतिहासिक भारत बंद : महेंद्र पाठक

रामगढ़: भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी कार्यालय झंडा चौक मंजूर भवन रामगढ़ से मशाल जुलुश निकला शहर में भ्रमण करते हुए सुभाष चौक के समक्ष जुलुस सभा तब्दील हो गया । सभा में मुख्य रूप से भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय परिषद के सदस्य सह अखिल भारतीय किसान सभा के महासचिव महेंद्र पाठक, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के जिला सचिव विष्णु कुमार, नगर सचिव संजय गोयनका ,प्रखंड सचिव नेमन यादव मौजूद थे । सभा को संबोधित करते हुए भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राष्ट्रीय परिषद के सदस्य सह झारखंड राज्य के सहायक सचिव महेंद्र पाठक ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार के विरोध में 27 सितंबर को ऐतिहासिक भारत बंद होगी , क्योंकि पूरे देश में मोदी सरकार के विरोध में जनता की गुसा भड़क रहा है, किसान विरोधी काले कानून के विरोध में 10 महीने से लाखों किसान दिल्ली की सड़कों पर बैठे हुए हैं, पूरे देश में आंदोलन चल रहा है और दूसरी तरफ लेबर कोड के विरोध में मजदूरों के आंदोलन चरम पर है। देश के अंदर किसान मजदूर छात्र नौजवान सभी परेशान हैं। बेतहाशा बढ़ती हुई महंगाई से आम जनता परेशान है ,केंद्र की मोदी सरकार लगातार देश के सारे सार्वजनिक संस्थानों को बेच रही है। इसीलिए किसान आंदोलन को 19 राजनीतिक दल के लोगों ने समर्थन किया है ।झारखंड में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ,राष्ट्रीय जनता दल, सीपीआईएम, सीपीआईएमएल, मार्क्सवादी समन्वय समिति, तृणमूल कांग्रेस ,आम आदमी पार्टी सभी लोगों ने बंद का समर्थन किया है। रामगढ़ जिले के अंदर रामगढ़ के सुभाष चौक, कुज्जू नया मोड़, गोला, गिद्दी सी, भुरकुंडा ,पतरातू ,घाटो, केदला आदि कोलिरीयों के क्षेत्र में कोयला की डिस्पैच पूरी तरह से बंद रहेंगे ।जिले में एलआईसी, बैंक ,पोस्ट ऑफिस ,सभी बंद रहेंगे, मसाल जुलुस में किसान नेता महेंद्र पाठक, विष्णु कुमार ,दुखन महतो, मेवालाल प्रसाद ,नैमन यादव, संजय गोयनका, गोपाल ओहदार, रतन लाल, मोहम्मद आलम ,विकी खान, डॉक्टर बी एन ओहदर ,लादूराम, कुलेश्वर मेहता, मोहम्मद चरका, सलीम खान ,मोहम्मद सल्लू, मुकुल गुड्डू बंगाली ,मोहम्मद वसीम भरत भरत मुंडा बालेश्वर महतो मुख लाल महतो इनामुल खान मुकुल खान रंजीत जायसवाल पप्पू रजक छोटू खान सहित कई लोग मौजूद थे।