होली मिलन समारोह का आयोजन हुआ

मौज-मस्ती हंसी-खुशी, होली रंगों का त्योहार

गोड्डा: लोकमंच के बैनर तले मंगलवार शाम स्थानीय नेताजी नगर के मदन निवास में होली मिलन समारोह का आयोजन हुआ। समारोह की अध्यक्षता पोड़ैयाहाट कॉलेज के प्राचार्य प्रेमनन्दन मंडल ने तथा संचालन प्रसिद्ध उदघोषक व साहित्यकार सुरजीत झा ने किया। शहादत दिवस पर भगत सिंह, राजगुरु व सुखदेव, पुण्यतिथि पर अंगक्षेत्र के जाने-माने स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षाविद व समाजसेवी पंडित रणजीत झा तथा जयंती पर प्रखर समाजवादी नेता डॉ. राम मनोहर लोहिया को समर्पित समारोह का उद्घाटन प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश शिवपाल सिंह, पोड़ैयाहाट के पूर्व विधायक प्रशांत मंडल, कर्मचारी संघ के पूर्व राष्ट्रीय सहायक महासचिव इंजीनियर मंजूल कुमार दास, प्रेमनन्दन मंडल, नगर उपाध्यक्षा वेणु चौबे, पूर्व नगर अध्यक्ष अजीत सिंह, साहित्यकार शिवकुमार भगत एवं राष्ट्रीय विभूति मंच के सचिव राजेश झा द्वारा दीप प्रज्वलन के पश्चात उक्त महानायकों के चित्र पर माल्यार्पण एवं पुष्पार्पण से हुआ। मंजूल दास ने जहाँ जंगे आजादी के तीनों महानायकों के अलावा डॉ. लोहिया के जीवनवृत्त पर विस्तार से प्रकाश डाला वहीं सुरजीत झा ने अपने पिता पंडित रणजीत झा की जीवनी और कृतित्व से अवगत कराया। स्वागत सम्बोधन व अबीर तिलक मंच सचिव सर्वजीत झा “अन्तेवासी” ने किया। कार्यक्रम के प्रथम दौर में जहां कौशल किशोर झा, कौशल किशोर मिश्रा, मिथिलेश कुमार, घृतनन्दन झा, वेणु चौबे एवं अपराजिता राय ने पारम्परिक होली गीतों से खूब समा बांधा वहीं दूसरे दौर में कवियों में शिवकुमार भगत, अजीत सिंह, ओमप्रकाश मंडल, मिथिलेश झा, प्रीतम गाडिया एवं फिरोज आलम ने खूब तालियां बटोरी। विशेषकर शिवकुमार भगत की “यह बसंत भी क्या बसंत है”, ओमप्रकाश मंडल की रणजीत बाबू पर लिखी “यश गाएगा इतिहास”, अजित सिंह की “आपको देखा तो देखता रह गया, मिथिलेश झा की चुटीली रचना ” होली के दिन गोलू निकला गर्लफ्रेंड की तलाश में” और प्रीतम गाडिया की “मेरे प्रीतम पीने दो मुझे को श्रोताओं की खूब वाहवाही मिली। इस दौरान मंजूल दास की लॉकडौन के दौरान रचित कविता संग्रह एवं यात्रा संस्मरण का भी विमोचन हुआ। अंत में वर्षों से चली आ रही परम्परानुसार “मूर्खाधिराज” एवं “महामुर्खाधिराज” के लिए क्रमशः वेणु चौबे एवं मंजूल दास का चयन कर श्री अन्तेवासी द्वारा माला पहनाकर एक साल की ताजपोशी की गयी और पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई गई। धन्यवाद ज्ञापन के दौरान समाजसेविका ममता मंडल ने देशभक्ति गीत के माध्यम से उपरोक्त महामानवों को अपनी श्रद्धांलजी दी। दिवंगत प्रसिद्ध पटकथा लेखक सागर सरहदी को भी याद करते हुए उन्हें शब्द-श्रद्धांजलि दी गयी। समारोह में उक्त गणमान्यों के अलावा यूनिसेफ के धनञ्जय त्रिवेदी, जिला अधिवक्ता संघ के महासचिव योगेश झा, डॉन बोस्को निदेशक अमित राय, भाजपा के वरिष्ठ नेता पवन कुमार झा, कुश्ती-हॉकी संघ अध्यक्ष मनोज कुमार पप्पु, भाजयुमो अध्यक्ष प्रियांशु राज, विमल नंदिनी ठाकुर, प्रो. नूतन झा, ज्योति झा, अधिवक्ता दिलीप तिवारी, प्रत्यूष रोहन, मीडिया के मनीष झा, अभिजीत तन्मय, दीपक कुमार दास, आशुतोष आनंद व गोविंद राज, ज्ञानेंद्र मिश्रा, अधिवक्ता उदयकांत शुक्ला, विनय ठाकुर व अम्बोद ठाकुर, अमोद झा, रेखा झा, अमित ठाकुर, अचल ठाकुर, रविकांत ठाकुर, सुभाष चन्द्र दास, मुकेश कु. चौधरी, आशुतोष झा, सत्यकाम राहुल, शिवेंद्र झा, दया शंकर, अनिल कुमार पंडित, गौरीशंकर झा, हरिशंकर मिश्रा, जनार्दन राय, किरण कुमारी, श्वेता ठाकुर, सुनील कुमार झा, मीरा देवी, सौरभ पासवान, विवेक कुमार, आर्या वत्स एवं करुणाकर झा शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *