पुलिस ने बिना कार्रवाई के कोयला लदे सात ट्रकों को कैसे छोड़ा: ममता

रामगढ़ से वली उल्लाह की रिपोर्ट
रामगढ़: रामगढ़ विधायक ममता देवी ने कहा है कि रामगढ़ जिले में जानकारी के मुताबिक कोयला खलारी राँची से लोड करके IPL पॉवर प्लांट गोला रामगढ़ के लिए जाना था। लेकिन सातों ट्रक रास्ता बदलकर श्रीराम पॉवर प्लांट कुज्जु में कोयला गिराने जा रहें थे जिसे पुलिस के द्वारा सातों ट्रकों को पकड़ा गया।

बाद में सातों ट्रकों को रामगढ़ पुलिस ने बिना किसी कार्रवाई या FIR दर्ज किये देर रात को छोड़ दिया जो एक गम्भीर मामला है।

वास्तव में यह कृत्य कोयला चोरी और तस्करी का मामला लगता है। हमे वरीय पदाधिकारियों से आश्वासन मिला है कि इसकी उच्च स्तरीय जाँच की जा रही है।

लेकिन हमारा मानना है कि सातों ट्रकों को छोड़ने का जो मामला है इसमें वरीय पदाधिकारियों की संलिप्तता को दर्शाता है। इसीलिए सरकार से हमारी माँग है कि निष्पक्ष जाँच हो । और जो भी अधिकारी दोषी है उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाय।

हमे पूर्ण संदेह है कि IPL पॉवर प्लांट और श्रीराम पावर प्लांट दोनों मिलकर काफी समय से जिले के कुछ भ्रष्ट अधिकारियों के साथ मिलकर कोयला तस्करी में लगे है। और यह सरकारी राजस्व को नुकसान पहुंचाने का एक आपराधिक मामला है। इनपर जांचोपरांत सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

इन दोनों पॉवर प्लांट के कम से कम पांच वर्षो के DO आर्डर की जाँच होनी चाहिए ताकि कोयले की हेराफेरी का पता चल सके। यदि इनकी संलिप्ता है तो इनपर मुकदमे दर्ज हो और इनके सभी DO आर्डर रदद् हो। और अन्ततः इनके लाइसेंस को रदद् कर देना चाहिए। इस न्याययोचित कदम से सरकार के करोड़ो रूपये के राजस्व के नुकसान को रोका जा सकेगा जो अन्ततः आम जनता के विकास के कामों में लगाया जा सकेगा।