क्षेत्र के विकाश के लिए कटिबद्ध हूँ : ममता देवी

मायटूंगरी मंदिर का होगा विकास4 साल बाद बनेगी रुकी हुई पीसीसी सड़क
रामगढ़ से वली उल्लाह की रिपोर्ट

रामगढ़: पिछले चार साल से वन विभाग के एनओसी को लेकर रुका हुआ महामाया माया तुंगरी मंदिर में पीसीसी निर्माण का रास्ता साफ हो गया है। चार वर्ष के बाद विधायक ममता देवी के प्रयास के बाद काम पूरा करने के लिए रामगढ़ वन प्रमंडल की ओर से एनओसी जारी किया गया है। इस एनओसी के इंतजार में पिछले चार साल से योजना अधूरी पड़ी हुई थी। अब वन प्रमंडल पदाधिकारी की ओर से भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता को एनओसी जारी किया गया हैं।
कई शर्तों के साथ वन विभाग ने जारी किया एनओसी
वन विभाग की ओर से निर्माण के लिए एनओसी तो दिया गया है लेकिन साथ ही कई शर्त लगाई गई है, काम करने के लिए वन विभाग की तय की गई। शर्तों को मानना जरूरी होगा। इसमें वन विभाग की जमीन का कोई दूसरा उपयोग नहीं करने, वन उत्पाद का इस्तेमाल नहीं करने, वन क्षेत्र की सामग्री का इस्तेमाल नहीं करने, कामगारों के लिए वन क्षेत्र में कैंप नहीं बनाने आदि की शर्ते रखी गई है।
पुराने डीएफओ ने बंद करवा दिया था काम, जब्त कर लिया था निर्माण सामग्री
योजना का काम 2017 में चालू किया गया था, लेकिन तत्कालीन डीएफओ ने काम बंद करवाते हुए निर्माण के लिए गिराई गई ।सामग्री को जब्त कर लिया था। तब से भवन प्रमंडल काम के लिए एनओसी की मांग वन प्रमंडल से कर रहा था। वन विभाग द्वारा माया टोकरी के रुके हुए कार्य के लिए एनओसी दिए जाने पर विधायक ममता देवी ने खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र के विकास के लिए मैं पूर्णता कटिबद्ध हूं आगे भी इस तरह के विकास कार्य जो किसी कारणवश रुके हुए उसे जल्द से जल्द पूरा करने का प्रयास करूंगी।