जामताड़ा : प्रशासन के नाक के नीचे हो रहा अवैध पशू तस्करी, ट्रक घर में घूंसा, तीन मवेशियों की मौत

जामताड़ा से राज किशोर सिंह की रिपोर्ट
जामताड़ा : बिहार से लेकर बंगाल तक अवेद्ध पषु लदे व्यवसायियों का कोरोना काल में धंधा फिर सर चढ़कर बोल रहा है। ऐसा नहीं है कि इस धंधे से पुलिस प्रशासन अनभिज्ञ हैं। यह तो संयोग था कि ट्रक दुर्धटनाग्रस्त हो गई नही तो कोई कहता भी तो ये पुलिस प्रशासन थोेड़े न गाल लगने देते।
मुर्गाबनी .कुण्डहीत मुख्य मार्ग के नाला थाना क्षेत्र अन्तर्गत कालीपाथर गांव में गुरुवार सुबह करीब चार बजे मवेशी लदा हुआ एक ट्रक मकान में घुस गया। इस भीषण दुर्घटना में विजय माजि के अलावा स्वपन माजि एवं विशाखा माजि के घर को तोड़ डाला है। जबकि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विजय माजी बाल बाल बच गयेए मकान के अंदर विजय माजि सोए हुए थे तथा उनके ऊपर घर की लकड़ी आदि इस तरह से गिरा कि वे दब गए। हालांकि उनको हल्की चोट आई है। मिली जानकारी के अनुसार बीआर 27 ई 8490 नंबर की ट्रक में कुल 26 मवेशी लदा हुआ था जो नवादा.बिहार से बंगाल जा रही थी। घटना को अंजाम देने के बाद ट्रक के चालक एवं खलासी भागने में सफल रहे।घटना की सूचना पा कर मौके पर स्थानीय पुलिस पहूंच कर ट्रक को जब्त किया एवं सभी मवेशी को बाहर निकाला गया । लेकिन 3 मवेशी की मृत्यु हो गई है तथा क्रेन के सहारे काफी मशक्कत के बाद क्षतिग्रस्त ट्रक को घर से निकाला गया है तथा सभी मवेशी को तत्काल को ग्रामीणों को जिम्मा नामा के साथ सौंपा गया है। पुलिस मामले की गहन जांच में जुटी है। इस दुर्घटना की सूचना मिलते ही स्थानीय ग्रामीण के साथ साथ पंकज झा, जनार्दन भंडारी, गणेश मित्र, गुलशन अली आदि समाज सेवी घटनास्थल पर पहुंचे। इस मौके पर पूर्व कृषि मंत्री सत्यानंद झा बाटुल एवं भाकपा के जिला सचिव कन्हाई माल पहाड़ीया घटनास्थल पहुंचकर पीड़ित परिवार को सरकारी आवास एवं उचित मुआवजा देने की मांग की है। आए दिन यह सड़क अवैध कारोबार के लिए चर्चित हो गई है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *