इल्म की रौशनी ट्रस्ट बनी एक और परिवार का मददगार

रामगढ़: इल्म की रौशनी ट्रस्ट (IKRT) अपने नेक मक़ासिद को लिए आगे तेज़ी से बढ़ रही है। और ग़रीब परिवारों को अपनी हैसियत के मुताबिक़ सहारा दे रही है। कुन्दा जगेश्वर में एक ग़रीब बच्ची की शादी में मदद की गई। ये एक ऐसी शादी में मदद की गई जिसमें दोनों परिवार वालों के तरफ़ से कोई जहेज़ नाम की चीज़ रुकावट नहीं बनी। लड़के वाले मुबारक बाद के हक़दार बनें सादगी के साथ निकाह किए और दुल्हन को बिना सरो सामान लिए वापस चले गए। सचिव मुहम्मद वसीम कौसर रज़वी ने कहा कि अगर ऐसी ही समझदारी के साथ निकाह किया जाए तो समाज से जहेज़ जैसी बुराइ को ख़त्म होने में देर नहीं लगेगी। और बेटियों को रहमत ही समझा जाएगा जहमत नहीं। इस नेक काम को देख कर गांव वालों ने ट्रस्ट के सदस्य बनने का असवाशन दिया। मुख्य रूप से शरीफ़ परवाज झारखंड, हसन रज़ा, फ़ैज़ान सरवर, मुशर्रफ रज़ा, इमरान नज़ीर, कामिल हसन, हाशिम आमला आदि मौजूद थे।