विद्युत आपूर्ति सुधारे या लापरवाह पदाधिकारियों को जबरन बीआरएस दे विभाग : मनोज चौधरी

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। क्षेत्र में अनियमित विद्युत आपूर्ति और विभागीय पदाधिकारियों की अकर्मण्यता के कारण नाराज लोगों का आक्रोश फूट गया। विद्युत विभाग के पदाधिकारियों की लापरवाही भरे कार्यशैली के विरोध में बुधवार को भाजपा नेता सह नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज कुमार चौधरी के नेतृत्व में लोगों ने विद्युत कार्यालय की तालाबंदी कर कार्यालय के सामने सड़क को जाम कर दिया। लोगों ने बिजली विभाग हाय हाय, बिजली सेवा दुरुस्त करो अन्यथा बेकार पदाधिकारियों को बीआरएस दो के नारे लगाने लगे। लगभग एक घंटे तक सड़क जाम रही जिससे वाहनों की आवाजाही भी बन्द हो गयी। सरायकेला अंचल अधिकारी सुरेश सिन्हा एवं थाना प्रभारी मनोहर कुमार एवं विद्युत विभाग के सहायक अभियंता के आश्वासन सड़क जाम हटा एवं ताला खुलवाया गया।
नगर पंचायत उपाध्यक्ष कुमार चौधरी ने बताया कि पूर्व में भी लचर और अनियमित विद्युत व्यवस्था को लेकर जनता द्वारा मेरे माध्यम विभागीय पदाधिकारी विभाग के सचिव तक से मुलाकात और पत्राचार किया गया। दो वर्ष पूर्व भी मेरे नेतृत्व में आंदोलन किया गया था उस समय भी सहायक अभियंता द्वारा नगर वासियों के आंदोलन और मांग पर बिजली आपूर्ति की सुधार करने का आश्वासन दिया गया था। लेकिन इसमे कोई सुधार अब तक नही हुआ है विद्युत की आपूर्ति बद से बदतर होती जा रही है। विद्युत सेवा आवश्यक सेवाओं की श्रेणी में आती है लेकिन विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों की असंवेदनशीलता के कारण मामूली समस्याओं के निदान के लिए भी लोगों को कई दिनों तक दौड़ना पड़ता है। विभाग में लोगों की हैसियत और पैरवी के हिसाब से काम होता है। बिना कारण के बिजली घंटो तथा कभी कभी दिन भर भी नही रहती है। विद्युत सहायक अभियंता से पांच बिंदुओं पर सात दिनों के अंदर जवाब मांगा गया है। अन्यथा विभाग के विरुद्ध शहरवासियों के साथ विचार विमर्श कर आंदोलन की रूपरेखा तय की जाएगी।
मांग की गई है कि सरायकेला नगर क्षेत्र में किस प्लान के तहत और कितनी मेगावाट विद्युत आपूर्ति की जाती है।
विद्युत संबंधी शिकायतों के निराकरण हेतु जवाबदेही तय करते हुए टास्क फोर्स गठित कर संपर्क नंबर सार्वजनिक करें।
एबी स्विच नहीं रहने के कारण छोटी सी फोल्ट होने पर पूरे सरायकेला की विद्युत सेवा बाधित कर दी जाती है सरायकेला नगर क्षेत्र में कितने ट्रांसफरो में एबी स्विच लगाया गया है और नहीं लगाया गया है तो क्यों?
पिछले 5 वर्षों से केबिलिंग का काम छोटे से सरायकेला शहर में अभी तक क्यों पूर्ण नहीं हो पाया?
बिजली आपूर्ति के लिए मानव और तकनीकी संसाधन पर्याप्त मात्रा में है कि नहीं यदि नहीं तो इसके संबंध में उच्चाधिकारियों को पत्राचार से संबंधित कागजात सार्वजनिक करें।
तकनीकी एवं अन्य कारणों से बिजली बाधित होने का कारण सार्वजनिक करें प्रशासनिक पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि, पत्रकार, थाना प्रभारी एवं विभाग के लोगों के साथ व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर जानकारी शेयर करें, जिला सूचना एवं जनसंपर्क विभाग द्वारा सूचना प्रकाशित करवाएं।
मौके पर भाजपा युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष अभिषेक आचार्य द्वारा गांव में धीमे केबलिंग एवं पंचायत स्तर पर बिल जमा करने की व्यवस्था करने का मांग की।
इस अवसर पर भाजपा जिला मीडिया प्रभारी सोहन सिंह, युवा मोर्चा नगर अध्यक्ष रवि सतपति, रिंकू वसा, राजा सामल, पिंटु पाथाल, चिरंजीवी महापात्रा, राजीव लोचन महापात्रा, परशुराम कवि, मनोरंजन साहू व सैकड़ों की संख्या में नगरवासी उपस्थित थे।