धनबाद जिला में योजना मद में कार्यरत 85 प्राथमिक उर्दू शिक्षकों के वेतन भुगतान को लेकर डिमांड पत्र भेजा प्राथमिक शिक्षा निदेशक को

धनबाद : झारखंड के सभी जिलों में योजना मद में कार्यरत प्राथमिक उर्दू शिक्षकों के साथ बारंबार आवंटन की समस्या बनी रहती है । टेट पास योजना मद में धनबाद जिला में 224 स्वीकृत पद के विरुद्ध वर्तमान में 85 उर्दू शिक्षक सेवारत है । वित्तीय वर्ष 2021-22 में जुलाई माह तक का वेतन भुगतान होने के बाद अगस्त माह 2021 से अब उर्दू शिक्षकों को झारखंड सरकार के प्राथमिक शिक्षा निदेशालय से वेतन आवंटन हेतु इंतजार करना होगा । झारखंड उर्दू प्राथमिक शिक्षक संघ के उप सचिव कौरेश अंसारी एवं उपाध्यक्ष नसरुल्लाह अंसारी ने बताया कि पूर्व में माननीय मुख्यमंत्री श्री हेमंत सोरेन को प्राथमिक उर्दू शिक्षकों को योजना मद से गैर योजना मद में समायोजन करने का मांग पत्र झारखंड प्राथमिक उर्दू शिक्षक संघ द्वारा दिया गया है । गैर योजना में समायोजन पश्चात उर्दू शिक्षकों को भी हिंदी शिक्षकों की भाँति नियमित वेतन भुगतान शुरू हो जाएगा । उर्दू शिक्षकों को गैर योजना में समायोजन करने के लिए जामताड़ा विधानसभा क्षेत्र के विधायक सह झारखंड राज्य हज कमेटी के चेयरमैन डॉक्टर इरफान अंसारी ने भी मामले को विधानसभा सत्र में उठाया था जिस पर सरकार ने पहल करने का आश्वासन दिया था । हालांकि जिला शिक्षा अधीक्षक कार्यालय धनबाद के पत्रांक 1550 दिनांक 10 अगस्त 2021 द्वारा उर्दू शिक्षकों के वेतन भुगतान हेतु 3 करोड़ 33 लाख 3627 रूपये प्राथमिक शिक्षा निदेशक से मांगी गई है । वेतन आवंटन समय पर निदेशालय द्वारा भेजे जाने पर ही योजना मद में कार्यरत उर्दू शिक्षकों का माह अगस्त 2021 का वेतन भुगतान समय पर हो पाएगा ।