ग्रामीण क्षेत्रों में शराब ताड़ी के अड्डों पर उमड़ रही है भीड़

मयूरहंड(चतरा)। राज्य अभी कोरोना के दूसरी लहर से जूझ रहा है। इसे देखते हुए झारखंड सरकार ने गाइडलाइन के तहत स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह घोषित किया है। राज्य में कोरोना कि दूसरी लहर की भयावह स्थिति को देखते हुए तीसरी लहर की चर्चा शुरू हो गई है। यह कब और कैसे आएगी कितनी भयावह होगी और इसके जद में कितने लोग आएंगे यह कहा नहीं जा सकता। इसके बाबजूद सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का खुलेआम उल्लंघन करते नजर आ रहे हैं मयूरहंड, पत्थलगडा, गिद्धौर आदि प्रखंड में लोग। मयूरहंड प्रखंड क्षेत्र के ग्रामीण क्षेत्रों में शादी समारोह में जमकर भीड़ उमड़ रही है। बरात में गाड़ियां ठुंस-ठुंसकर भरी जा रही हैं। ऐसे में कोरोना काल में ऐसे शादियों में रिश्तेदारों के साथ यमराज को भी न्योता दिया जा रहा है। वहीं सुरक्षा सप्ताह के दौरान अनाधिकृत दुकानें शटर के अंदर दर्जनों ग्राहकों को बैठाकर दुकानदारी कर लाखों के बारे न्यारे कर रहे हैं। दुकानदार एवं प्रशासन के बीच लुका छुपी का खेल जारी है। प्रशासन के द्वारा पकड़े जाने पर दुकानदारों के ऊपर हजारों रुपए के जुर्माना लगाए जाते हैं फिर भी कोई सुधार नहीं हो रहा है। वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में अवैध देसी शराब और ताड़ी बेचने वालों के पास भी सुबह शाम जमकर भीड़ उमड़ रही है। ऐसे में संक्रमण के आंकड़ों में ना तो कमी आएगी और ना ही संक्रमण की चैन टुटेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *