आगामी पंचायत चुनाव को देखते हुए प्रखंड कार्यालय सरायकेला में BDO ने की बैठक

प्रखंड क्षेत्र में क्रियान्वित योजनाओं की समीक्षा कर कार्य में प्रगति लाने के दिए निर्देश

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। सरायकेला प्रखंड कार्यालय स्थित सभागार में प्रखंड विकास पदाधिकारी मृत्युंजय कुमार की अध्यक्षता में सरायकेला प्रखंड के सभी 14 पंचायत के ग्राम पंचायत के कार्यकारी प्रधान (मुखिया) एवं पंचायत सचिव के साथ बैठक आहूत की गई । बैठक में सर्वप्रथम आगामी पंचायत निर्वाचन के संभावित समय को देखते हुए मतदाता सूची एवं मतदान केंद्र संबंधी विषयों पर चर्चा की गई। तत्पश्चात प्रखंड अंतर्गत संचालित सभी प्रकार की योजनाओं की प्रगति और क्रियान्वयन के बिंदु पर चर्चा और समीक्षा की गई। प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा सभी प्रधान , कार्यकारी समिति (पंचायत) एवं पंचायत सचिवों को निर्देशित किया गया कि “ग्रामीणों की आस,मनरेगा से विकास” अभियान के तहत मनरेगा में अधिक से अधिक योजनाओं का चयन करते हुए आचार संहिता लागू होने के पूर्व क्रियान्वयन सुनिश्चित किया जाए ताकि कोरोना वायरस से उत्पन्न परिस्थितियों में लोगों को अधिक से अधिक रोजगार मुहैया कराया जा सके। प्रधानमंत्री आवास योजना की समीक्षा करते हुए प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा वर्ष 2016 से 2020 तक की लंबित योजनाओं में लाभुक एवं आपूर्तिकर्ताओं से समन्वय स्थापित कर आवास पूर्ण कराने का निर्देश दिया गया जबकि आवास प्लस के तहत सूची में दर्ज वैसे लाभुक जिनका तकनीकी कारणों से आवास स्वीकृत नहीं हो रहा है उन्हें आवश्यक कागजात जमा कराने और निचले क्रम के लाभुकों को ग्राम सभा से अनुमोदित कराते हुए आवास का लाभ दिलाने का निर्देश दिया गया। वर्तमान में श्रम विभाग के तहत संचालित “ई-श्रम पोर्टल” पर लाभुकों के निबंधन हेतु सभी बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई। सभी पंचायत में कैंप लगाने का निर्देश दिया गया। साथ ही प्रधान कार्यकारी समिति और पंचायत सचिवों को निर्देश दिया गया कि यदि किसी गांव अथवा टोले में लाभुक दिन के कार्य समाप्ति के पश्चात पोर्टल पर निबंधन कराने को इच्छुक है तो वह प्रखंड कार्यालय को सूचित करें ताकि वैसे गांव और टोला में रात्रि चौपाल का आयोजन कर श्रम पोर्टल पर अधिक से अधिक लोगों का निबंधन कराया जा सके । चर्चा के क्रम में कंबल वितरण हेतु योग्य लाभुकों का चयन, पेंशन हेतु योग्य लाभुकों का चयन एवं 15वें वित्त से संचालित योजनाओं के कार्यान्वयन के स्थिति की भी समीक्षा की गई तथा सभी को निर्देशित किया गया कि यथाशीघ्र सभी प्रकार के विकास संबंधी कार्यों का प्रारंभ और निष्पादन कराना सुनिश्चित करें ताकि किसी भी प्रकार की योजना आगामी पंचायत निर्वाचन के आचार संहिता से प्रभावित ना हो और आदर्श आचार संहिता के अनुपालन के साथ पंचायत निर्वाचन का कार्य भी संपन्न कराया जा सके। बैठक के दौरान उपस्थित जनप्रतिनिधिगण द्वारा उठाए गए सवाल और कठिनाइयों का समाधान किया गया तथा सभी कार्यों को ससमय नियमानुसार संपादित करने हेतु निर्देशित किया गया। बैठक में पशुधन योजना हेतु लाभुकों के चयन के लिए व्यापक प्रचार-प्रसार एवं योग्य लाभुकों के चयन में सबकी सहभागिता हेतु भी सूचित किया गया। बैठक में राशन डीलर द्वारा राशन का वितरण उचित रीति से किया जा रहा है अथवा नहीं तथा धोती-लूंगी और साड़ी का वितरण भी उचित रीति से किया जा रहा है या नहीं, इस बिंदु की समीक्षा की गई। सभी पंचायत प्रतिनिधियों ने राशन तथा धोती/लूंगी , साड़ी के वितरण में डीलर द्वारा किए जा रहे कार्य पर संतोष व्यक्त किया गया तथा बताया कि वितरण कार्यों में उन्हें भी सूचना दी जाती है और उनकी उपस्थिति में ही वितरण कराया जाता है । बैठक में प्रभारी प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी, प्रखंड कृषि पदाधिकारी, बीपीओ मनरेगा, प्रखंड समन्वयक (पंचायती राज), प्रखंड समन्वयक (प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण) एवं प्रखंड के सभी पदाधिकारी और कर्मी उपस्थित थे।