विशप स्वामी के निधन पर इंटक प्रदेश अध्यक्ष निशा भगत ने शोक संवेदना प्रकट की

गुमला : गुमला के बिशप स्वामी पोल अलोइस लकड़ा के निधन पर इंटक महिला कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष निशा भगत ने शोक संवेदना प्रकट की है। उन्होंने कहा है कि बिशप स्वामी के निधन से गुमला धर्म प्रांत को काफी क्षति हुई है। इसकी भरपाई कर पाना मुश्किल है। वह सरल और मृदुभाषी थे। उनकी सोच ऊंची थी। शिक्षा के प्रति उनका समर्पण भाव समाज में देखने को मिल रहा था। इसके साथ ही विकास के प्रति तथा गरीबों के उत्थान के लिए इनके द्वारा कई कार्य आरंभ किए गए थे। जैसे कि दीन दुखियों की सेवा करना विचारों के लिए सोचते थे। वे महान विभूति थे जिनको समाज में खो दिया है। उन्होंने कहा है कि गुमला को एजुकेशन हब के रूप में बिशप स्वामी ने बनाने की सोच रखी थी इसे समाज के लोगों ने पूरा करने का विचार कर लिया है।निशा भगत ने बिशप स्वामी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उनके आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है। इसके साथ ही उनके परिवार एवं समाज के लोगों को धैर्य और साहस के साथ उनके सपनों को साकार करने की अपील की है।

विशप स्वामी के निधन से गुमला धर्म प्रांत को अपूरणीय क्षति : हंदू भगत

सरना समिति गुमला जिला के अध्यक्ष हंदु भगत ने कहा है कि बिशप स्वामी पोल अलोइस लकड़ा के निधन से गुमला धर्म प्रांत को अपूरणीय क्षति हुई है। इसकी भरपाई करना मुश्किल है ।श्री भगत ने शोक संवेदना प्रकट करते हुए कहा है कि बिशप स्वामी के निधन से गुमला धर्म प्रांत को काफी क्षति हुई है। इसकी भरपाई कर पाना मुश्किल है। वह सरल और मृदुभाषी थे। उनकी सोच ऊंची थी। शिक्षा के प्रति उनका समर्पण भाव समाज में देखने को मिल रहा था। इसके साथ ही विकास के प्रति तथा गरीबों के उत्थान के लिए इनके द्वारा कई कार्य आरंभ किए गए थे। जैसे कि दीन दुखियों की सेवा करना विचारों के लिए सोचते थे। वे महान विभूति थे जिनको समाज में खो दिया है। उन्होंने कहा है कि गुमला को एजुकेशन हब के रूप में बिशप स्वामी ने बनाने की सोच रखी थी इसे समाज के लोगों ने पूरा करने का विचार कर लिया है।श्री भगत ने बिशप स्वामी के निधन पर दुख व्यक्त करते हुए उनके आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।