15वें वित्त आयोग की नाली निर्माण में बरती जा रही अनियमितता, ग्रामीणों ने की जांच कर कार्रवाई की मांग

विजय कुमार की रिपोर्ट
मेहरमा : प्रखंड के तुलाराम भुस्का पंचायत अंतर्गत गैरीचक गांव में 15वें वित्त आयोग के तहत निर्माण कराया जा रहा है। नाली में घटिया सामग्री का उपयोग किया जा रहा है। बताया जाता है कि लाखों की राशि से निर्माण कराया जा रहा नाली भ्रष्टाचार का भेंट चढ़ गया है। मालूम हो कि नाली खुदाई का कार्य सर्वप्रथम मजदूर से कराने की वजह जेसीबी मशीन से मिट्टी का खुदाई कर दिया गया है और चिमनी ईट लगाने की वजह लोकल घटिया ईट का उपयोग किया जा रहा है इतना ही नहीं बालू की जगह पत्थर का डस्ट उपयोग किया जा रहा है ग्रामीणो में चर्चा यह भी है कि नाली का निर्माण करा रहे बिचौलियों की पहुंच प्रखंड कार्यालय के अधिकारियों तक है जिसके कारण अपनी मनमानी ढंग से नाली का निर्माण कराया जा रहा है और सरकारी राशि का बंदरबांट किया जा रहा है। साथ ही योजना स्थल पर किसी प्रकार का योजना से संबंधित कोई भी बोर्ड नहीं लगाया गया है जिससे की आम नागरिकों को पता चल सके कि कितने राशि से नाली का निर्माण कराया जाना है।