घंटों हुई जमकर बारिश, मौसम हुआ सुहावना

पाकुड़: एक बार फिर पाकुड़ जिला भर में मंगलवार को जमकर बरसा वही वर्षा होने के कारण जहां मौसम काफी सुहावना दिखा तो वही विकराल रूप धर चुके जल संकट से भी लोगों को मिला है. बाकू शहर में झमाझम बारिश के बीच कई जगह जलजमाव की भी समस्या देखी गई इसके अलावा कई लोग ढूंढते हुए घर जाने को मजबूर हुए. पाकुरिया संवाददाता के अनुसार पानी की मार झेल रहा पाकुड़िया में मंगलवार को घंटों जम कर वर्षा होने से जहां एक और लोगों को उमस भरी गर्मी से राहत मिली वहीं दूसरी ओर पानी के दिक्कतों से कुछ लोगों को राहत मिलने की उम्मीद है । पिछले दिनों भी थोड़ी बहुत बारिश हुई थी । पुनः दूसरी बार मंगलवार को बारिश हुई जिससे लोगों को ने राहत की सांस ली है । प्रखंड क्षेत्र के कई वार्ड ड्राय जॉन में आता है जहां इस समय पानी की घोर किल्लत है । ऐसे में वर्षा का होना कोई वरदान से कम नहीं है । अधिकांश घर जिनके कुएं सूख गए थे या जिनका बोरिंग से जल निकलना बंद हो गया था ऐसे सारे लोगों में खुशी है । सूखे कुएं चापाकल तथा बोरिंग से थोड़ा बहुत पानी प्राप्त होने लगा है। बासितकुंडी क्षेत्र के कई घरों में लगभग 5 फीट जलस्तर बढ़ जाने से घरवाले खुश हैं । कुछ हद तक उनकी समस्या का समाधान हो गया है। किंतु आज भी बहुत सारे ऐसे घर हैं जिनके घरों में कुआं नहीं है, वे केवल सप्लाई वाटर पर निर्भर करते हैं उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है । ड्राय जॉन क्षेत्र में मुखिया की ओर से पानी के लिए आज भी कोई ठोस निर्णय नहीं लिया गया है। जिससे लोगों की समस्या बरकरार है। किंतु वर्षा होने से ऐसे कुछ लोगों ने राहत की सांस ली है जिनके घर में स्वयं का बोरिंग अथवा कुआ है । प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में भी वर्षा का लाभ प्राप्त हो रहा है । ग्रामीण क्षेत्र की कुछ हद तक पानी की समस्या से निजात प्राप्त हुए हैं ।किसान भी खुश है उनकी जमीन नमी हो रही है । अब खेतों को जोतने की तैयारी में जूट गए हैं,पर उन्हें और वर्षा की आवश्यकता है।