श्री जगन्नाथ सेवा समिति का पुनर्गठन, राजा सिंह देव बने अध्यक्ष

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। श्री जगन्नाथ मंदिर प्रांगण में जगन्नाथ सेवा समिति के अध्यक्ष सुधीर चंद्र दाश के अध्यक्षता में सर्वसम्मति से जगन्नाथ सेवा समिति सरायकेला का पुनर्गठन किया गया। इस अवसर पर कमिटी के सदस्य एवं भारी संख्या में भक्तगण उपस्थित थे। पुनर्गठित कमेटी में अध्यक्ष — सिद्धार्थ शंकर सिंहदेव(राजा सिंहदेव)
उपाध्यक्ष— सुदीप पटनायक
सचिव— पार्थ सारथी दाश
उपसचिव— परशुराम कवि एवं रवि सतपथी
कोषाध्यक्ष राजीव लोचन महापात्र,सह कोषाध्यक्ष चिरंजीवी महापात्र
मार्गदर्शक मंडली में बादल दुबे , रमानाथ आचार्य, सुधीर चंद्र दाश, सुशांत महापात्र , मनोज कु चौधरी, चंद्र शेखर कर।
कार्यकारिणी सदस्य, राजेश कु मिश्रा, बद्री नारायण दरोगा, अजय साहू, काशी नाथ कर , सुमित महापात्र (विजय) , राजेश महापात्र(बागुन) रूपेश महापात्र, शुभम कर, मानू सतपथी, राजेश नंदा, शिवा नायक, सनज साहू, झंटू महापात्र, महेश महापात्र, देव महापात्र, आकाश महापात्र, गौतम बनर्जी ,
कमिटी के पूर्व कोषाध्यक्ष शंकर कुमार सतपथी ने वर्तमान कोषाध्यक्ष राजीव लोचन महापात्र एवम जगन्नाथ भक्तो के समक्ष जगन्नाथ सेवा समिति के विगत आय व्यय का हिसाब किताब प्रस्तुत किए और पूर्व अध्यक्ष सुधीर चंद्र दाश और उपस्थित पूर्व कमिटी ने सभी नवनिर्वाचित सदस्यों को हार्दिक बधाई और नई ऊर्जा के साथ प्रभु श्री जगन्नाथ के सेवा के लिए मार्गदर्शन दिए।