जंगल में आग लगने से छोटे पौधों को हुआ भारी नुकसान

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : बरही प्रखंड के बरसोत पंचायत अंतर्गत चोन्दीया गजुवा जंगल में आग लगने से छोटे-छोटे पौधों को भारी नुकसान हुआ है। यह पौधारोपण वन विभाग द्वारा पिछले सीजन में ही किया गया था। आग से जंगल में लगे सैकड़ों छोटे-छोटे पौधे जलकर राख में तब्दील हो गए हैं तो कई पौधे मुरझा कर बेजान हो गए हैं। अनुमान लगाया जा रहा है कि महुआ चुनने वालों के कारण आग लगी है। जले पौधों का राख व आग से झुलसे बेजान पौधे आम लोगों के साथ-साथ वन पर्यावरण प्रेमियों को मुंह से चिढ़ा रहे हैं। इस बाबत बरसोत पंचायत के प्रधान सीता देवी, सामाजिक कार्यकर्ता विष्णुधारी महतो ने बताया कि यह आग लगी की घटना पिछले 25 मार्च को ही हुई है। जिसमें कई एकड़ में लगे भारी संख्या में छोटे छोटे पौधे नष्ट हुए हैं। ज्यादातर पौधे राख में तब्दील हो गया। किंतु वन विभाग इसका शुध नहीं ले रही है। जबकि उन्होंने वनकर्मियों को भी इस बात से अवगत कराया है। इसके लिए वन विभाग कर्मियों को जले पौधों की फोटो भी उपलब्ध कराया गया है। मंगलवार को विष्णुधारी महतो गांव के कुछ लोगों साथ बरही वन विभाग कार्यालय पहुंचे किंतु वहां वन क्षेत्र पदाधिकारी गोरख राम नहीं मिले उसके बाद उन्होंने दूरभाष से वन क्षेत्र पदाधिकारी को इसकी जानकारी दी है। वन क्षेत्र पदाधिकारी ने बताया कि उन्हें इस बात की जानकारी नहीं थी, मामले का जांच करेंगे।