जन्म व मृत्यु के पंजीकरण को लेकर जागरूकता रथ को हरी झंडी दिखाकर डीसी ने किया रवाना

मौके पर उपायुक्त के नेतृत्व में अपर उपायुक्त, सदर अनुमंडल पदाधिकारी, सिविल सर्जन रहे उपस्थित
रामगोपाल जेना
चाईबासा: पश्चिमी सिंहभूम जिला समाहरणालय परिसर से जिला उपायुक्त श्री अरवा राजकमल के नेतृत्व में अपर उपायुक्त श्री एजाज़ अनवर, सदर चाईबासा अनुमंडल पदाधिकारी श्री शशीन्द्र कुमार बड़ाईक, मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ ओम प्रकाश गुप्ता के द्वारा संयुक्त रूप से जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने हेतु आम जनमानस को जागरूक करने के उद्देश्य से जागरूकता प्रचार वाहन को हरी झंडी दिखाकर क्षेत्र भ्रमण हेतु रवाना किया गया। इस मौके पर जिला योजना पदाधिकारी श्री राजीव रंजन सिन्हा सहित जिला सांख्यिकी पदाधिकारी एवं सांख्यिकी कार्यालय के सहायक पदाधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

इस संबंध में उपायुक्त के द्वारा बताया गया कि आज जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए लोगों को जागरूक करने हेतु प्रचार वाहन को रवाना किया गया है, क्योंकि जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र कैसे बनवाना है, की जानकारी नहीं रहने के कारण अक्सर इसमें विलंब हो जाता है। उन्होंने बताया कि जब नवजात का जन्म किसी अस्पताल में होता है तो 21 दिन तक बिना कोई शुल्क लिए वहां के चिकित्सा पदाधिकारी के द्वारा जन्म प्रमाण पत्र निर्गत किया जाता है और यदि नवजात का जन्म किसी ग्रामीण क्षेत्र में होता है तो 21 दिन तक बिना किसी शुल्क एवं 30 दिन तक शुल्क सहित वहां के पंचायत सेवक प्रमाण पत्र निर्गत करने हेतु सक्षम है। उपायुक्त ने बताया कि प्रारंभ में निबंधन नहीं होने के उपरांत 1 महीने के उपरांत प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं 1 वर्ष के बाद अनुमंडल पदाधिकारी जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत करने के लिए सक्षम पदाधिकारी हैं।

उपायुक्त ने बताया कि प्रारंभिक जानकारी नहीं रहने के कारण जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने के लिए लोगों को कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़े, इस उद्देश्य से आगामी 5 दिनों तक जिले के विभिन्न प्रखंडों में प्रचार वाहन के माध्यम से आम जनमानस को जागरूक करने का कार्य किया जाएगा। उन्होंने बताया की विगत वर्ष में जिला अंतर्गत 20,000 जन्म प्रमाण पत्र निर्गत किया गया है और जनमानस से अपील है कि सरकार के द्वारा जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाने हेतु नियम में जो सरलीकरण किया गया है उसका आप लोग अवश्य फायदा लें एवं सही समय पर जन्म एवं मृत्यु प्रमाण पत्र बनवाना ना भूलें।