जरहिया ने बेन्दगी को 2-1 गोल से हरा कर टूनामेंट पर जमाया कब्जा

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही : बरही बीएसए द्वारा आयोजित फुटबॉल लीग टूनामेंट का फाइनल मैच सोमवार को बरही प्रखण्ड मैदान में हुई। इस टूर्नामेंट में प्रखण्ड के 16 टीमो ने भाग लिया जिसमे 63 मैच खेला गया। फाइनल मैच बेन्दगी व जरहिया टीम के बीच खेला गया। फाइनल मैच के दौरान बतौर मुख्य अतिथि बरही अनुमंडलीय अस्पताल के नॉडल पदाधिकारी डॉ प्रकाश ज्ञानी, विशिष्ट अतिथि के रूप में उप प्रमुख सिकेन्द्र राणा, सम्मानित अतिथि के रूप में डॉ भैरव शंकर अग्रवाल, मनोज केशरी, गाजो यादव उपस्थित रहे। फाइनल मैच में जरहिया की टीम ने बेन्दगी की टीम को 2-1 गोल से हरा कर टूनामेंट पर कब्जा जमाया। फाइनल मैच सम्पन होने पर पुरुष्कार वितरण कार्यक्रम हुआ। जिसकी अध्यक्षता बीएसए अध्यक्ष नोसाद अहमद एवं संचालन सचिव बलराम केशरी ने किया। जिसमे रनर विनर दोनों टीमो के कप्तानों को एक एक सेट जर्सी, मैडल व रनर विनर की ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया। पूरी टूनामेंट में बेहतर खेल का प्रदर्शन करने वाले 16 खिलाड़ियो को सम्मानित करते हुए एक एक टीशर्ट दिया गया। वही टूनामेंट में बेस्ट गोलकी लश्करी के टीम से समीर अंसारी, जरहिया की टीम से बेस्ट डिफेंस आशीष कुमार व रालो के टीम से बिपिन कुमार को सबसे अधिक कुल 6 गोल करने को लेकर मोमेंटो देकर सम्मानित किया। लीग एवं सुपर लीग टूनामेंट को सम्पन्न कराने में मुख्य निर्णायक की भूमिका बसंत ठाकुर, मो सदाम और बीरेन्द्र रविदास उर्फ माइकल, रोहित ठाकुर को टीशर्ट, मैडल व वाटर बोटल दिया गया। फाइनल मैच में मुख्य निर्णायक नेशनल रेफरी उमेश कुमार, लाइंसमेन स्टेट पैनल रेफरी गौरव कुमार एवं संजय पासवान, फ़ॉरथ एंपायर का दायित्व भोला रजक, कॉमेंटेटर नरेश सिंह एवं मनोहर यादव द्वारा निभागया गया। टूनामेंट के सभी प्रतिभागी टीमो को प्रोत्साहित करते हुए एक एक फुटबॉल दिया गया। लीग फुटबॉल टूर्नामेंट पूरी तहर से निःशुल्क रूप से सम्पन्न कराया गया, खिलाओ एवं भाग ले रहे टीमों से किसी प्रकार का शुल्क नही लिया गया। टूनामेंट सामाजिक सहयोग से किया गया जिसमें पतंजलि के संचालक आशीष कुमार केशरी, मलकोको मुखिया प्रतिनिधि विजय कुमार यादव, जीप प्रतिनिधि मो कयूम, हरेंद्र यादव एवं अन्य लोगो ने भी सहयोग किया। टूनामेंट बीएसए संरक्षक अब्दुल मनान वारसी के निर्देश पर सम्पन्न हुआ। जिसमे बीएसए के सदस्य सुजीत कुमार, अविनाश कुमार, मिथलेश यादव, विजय यादव, मनितोष कुमार, जितेंद्र भुइयां, अविनाश लोहनी, अभिषेक कुमार शर्मा आदि ने अहम योगदान दिया।