झारखण्ड सरकार का ई -पास पर लिया गया फैसला अनुचित और जनविरोधी फैसला : अजय सिंह 

रांची: जिला भाकपा के जिला मंत्री सह राज्य कार्यकारणी सदश्य अजय सिंह ने बयान जारी कर कहा है कि झारखण्ड सरकार का फैसला 16 मई से 27 मई तक स्वास्थ सुरक्षा सप्ताह के दौरान हर व्यक्ति को e-pass लेना आवश्यक होगा ।अगर e pass नहीं होगा तो कानूनी कार्यबाही होगी।यह फैसला कही से न्यायोचित नहीं है।इससे हजारो दिहाड़ी मजदूर ,प्रतिदिन सब्ज़ी फल और पत्ते बेचकर जिविका चलाने बाले लोग और गरीब गुरबे लोगप्रभावित होंगे।साथ ही आम लोग जो सुबह सब्जी दूध जैसे आबश्यक खादय पदार्थ खरीदने निकलते है बैसे सभी लोगो को परेशानी का सामना करना पड़ेगा ।पुलिस -प्रशासन नाहक लोगो को आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत केस और क़ानूनी कार्यबाही करेगी जो आम जनता में सरकार के प्रति असंतोष व्यापत होगा।एक तरफ सरकारलोगो के हित में कंस्ट्रक्शन खेती और किसानों मजदूरों के हित के लिए फैसले ले रही है।दूसरी तरफ इ पास अनिबर्य होगा होगा जो सरकार के फैसले की विपरीत है।साथ ही साथ मीडिया कर्मियों के लिए भी पास अनिबर्य कर दिया है।जो लोकतंत्र का चौथा अस्थभ है।सरकार जनहित में कई अच्छे और कड़े कदम उठा रही है जो सराहनीय भी है।परंतु इ पास सभी को आबश्यक हो इस फैसले पर पुंन विचार करे तथा हाट बाजारों और सब्जी बिक्रेतायो और मीडिया कर्मियों को इस फैसले से दूर रखें सरकार एवं जनहित में में इ पास की अनिवार्यता को स्मापत करे।