जिला स्तरीय पर्यावरण समिति की बैठक

गुमला: उपायुक्त  शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में जिला स्तरीय पर्यावरण समिति की बैठक सम्पन्न हुआ। आईटीडीए भवन गुमला के सभागार में आहूत बैठक में मुख्य रूप से जल की गुणवत्ता की जाँच, गुमला जिले में प्रत्येक ग्राम में न्यूनतम एक जल स्रोत के जिर्णाेद्धार हेतु अब तक किए गए प्रयास, बैंक्वेट हाॅल, रेस्टाॅरेंट इत्यादि की ठोस कचरा प्रबंधन व्यवस्था, बायोमेडिकल वेस्ट रूल, रिवर सैंड माईनिंग से संबंधित कार्रवाई प्रतिवेदन आदि विषयों पर विचार विमर्श पर निर्णय लिया गया।
बैठक में वन प्रमण्डल पदाधिकारी ने बताया कि जल स्रोतों की गुणवत्ता की जाँच एवं सैम्पल की शुद्धता से संबंधित प्रतिवेदन भेजा जाना है। उन्होंने बताया इस विषय में मुख्य सचिव झारखण्ड राज्य तथा अपर मुख्य सचिव पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन विभाग के द्वारा निर्देश प्राप्त है। उन्होंने बताया प्राप्त सैम्पल की जाँच 02-03 दिनों के अंदर करना होता है। जिस पर उपायुक्त ने अबतक किए गए जाँच का प्रतिवेदन तैयार कर भेजने को कहा। साथ ही रोस्टर तैयार करते हुए ग्रामवार सैम्पल एकत्र कर जाँच करने तथा प्रतिवेदन तैयार करने का निर्देश दिया। बैठक में बैंक्वेट हाॅल, रेस्टाॅरेंट इत्यादि में प्रदुषण से संबंधित कागजात की जाँच करने तथा ठोस कचरा प्रबंधन व्यवस्था की जाँच करते हुए संचालकों को इस संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश देने का निर्देश दिया। सूची तैयार कर पाॅल्यूषण बोर्ड से सीटीओ प्राप्त है अथवा नहीं इसकी भी जाँच करें।
बैठक में वन प्रमण्डल पदाधिकारी ने बताया कि जैव चिकित्सा अपशिष्ट प्रबंधन नियम के अंतर्गत स्वास्थ्य सुविधाओं विशेषकर कोविड-19 के नियमों के अनुपालन सुनिश्चित किया जाना है। साथ ही उन्होंने बताया नदी से बालू के उठाव से संबंधित कार्रवाई प्रतिवेदन भी भेजा जाना है। जिस पर उपायुक्त ने एक सप्ताह के अंदर अनुपालन प्रतिवेदन तैयार कर उपलब्ध कराने का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिया।
जिला स्तरीय पर्यावरण समिति की बैठक में उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा, वन प्रमण्डल पदाधिकारी श्रीकांत, सदर अनुमण्डल पदाधिकारी रवि आनन्द, अनुमण्डल पदाधिकारी चैनपुर प्रिति लता किस्कू, अनुमण्डल पदाधिकारी संजय पी.एम. कुजूर, पुलिस उपाधीक्षक प्राण रंजन, जिला परिवहन पदाधिकारी विजय सिंह बिरूआ, अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी गुमला, अंचल अधिकारी गुमला, चैनपुर, सिसई, बसिया, कामडारा, अंचल निरीक्षक चैनपुर व अन्य उपस्थित थे।