झामुमो नेता ने अंचल कार्यालय को बताया भ्रष्टाचार का जड़

महीनों चक्कर लगाने के बाद भी निराश लौटते हैं रैयत : नीमू मेहता

इचाक से कुलदीप कुमार की रिपोर्ट

इचाक। अंचल कार्यालय में भ्रष्टाचार जड़ जमा चुका है। महीनों चक्कर लगाने के बाद भी किसानों का काम नही हो पाता है। उक्त बातें झामुमो नेता नीमू मेहता ने कही। श्री मेहता ने कहा कि प्रखंड में कोई भी काम बिना पैसे दिए नहीं होता। लेकिन बीते दिन का मामला कुछ अलग है। जमीन मालिक कोई और एलपीसी किसी और का। उन्होंने हल्का कर्मचारी, अंचल निरीक्षक और अंचल अधिकारी की मिली भगत से जमीन बेचने का मामला सामने आया है। उन्होंने लुंदरु गांव के बक्सीडीह निवासी अर्जुन स्वर्णकार के खतियानी जमीन जो इनकी हिस्से में जमीन आती थी। वह एलपीसी किसी अन्य व्यक्ति के नाम से बनाया गया है। श्री मेहता ने सरकार से भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने की मांग की है।