जेपीएससी नियुक्ति पर रोक लगाये सरकार: राजेश गुप्ता

रांची: राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने कहा है कि आगामी जेपीएससी नियुक्ति पर रोक लगाएं। अभिलंब ओबीसी का आरक्षण 52% करें। केंद्र सरकार से अपील है की ओबीसी समुदाय का जाति आधारित जनगणना करें। नहीं तो राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा करेगी आंदोलन।
उक्त बातें प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने वाईवीएन यूनिवर्सिटी में राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा द्वारा आयोजित राज्य स्तरीय एक दिवसीय चिंतन शिविर को संबोधित करते हुए कहा।
इस एक दिवसीय चिंतन शिविर में निम्न बिंदुओं पर चर्चा हुई जिसमें 1.झारखंड में जेपीएससी सहित अन्य नियुक्ति पर रोक लगाते हुए ओबीसी का आरक्षण 52% करने।2. देश में जाति आधारित जनगणना कराने। 3.देश के सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों का निजीकरण पर रोक लगाई जाए। 4. मंडल कमीशन के सभी अनुशंसा ओं को यथाशीघ्र लागू करने।5. अनुबंध, आउटसोर्सिंग, लैटरल एंट्री पर रोक लगाने।6. नीट (प्री व पोस्ट डिग्री) परीक्षा में ओबीसी का आरक्षण सुनिश्चित करने।7. ओबीसी के बैकलॉग पदों को भरे जाने।8. अनुच्छेद 330 और 332 में संशोधन कर ओबीसी समुदाय को लोकसभा विधानसभा में प्रतिनिधित्व (आरक्षण) की व्यवस्था की जाए।9. जिला सत्र हाई कोर्ट सुप्रीम कोर्ट के जजों की नियुक्ति में ओबीसी, एससी, एसटी को आरक्षण की व्यवस्था की करने। 10.ओबीसी के बैकलॉग पदों को भरने। पर चिंतन हुई।
चिंतन शिविर में राज्यभर से आए तमाम पदाधिकारी एक स्वर में उपरोक्त बिंदुओं पर प्रकाश डाला। चिंतन शिविर में डॉ सीके ठाकुर डॉ दिलीप सोनी, प्रो प्रेम सागर केसरी, डॉ हीरालाल साहा, प्रेमनाथ विश्वकर्मा, विक्रांत विश्वकर्मा, प्रमोद कुमार,बिरजू मेहता हजारीबाग, ,राजकुमार भगत गोड्डा, रिंकी देवी गोड्डा, श्री राम चौधरी बोकारो, अशोक सक्सेना पलामू,शत्रुघ्न प्रसाद लातेहार, रणधीर चौरसिया साहिबगंज,शिव प्रसाद साहू रांची ग्रामीण, राजू गोप रांची महानगर,, परवीन वर्मा गिरिडीह,नाम गोपाल पंडित देवघर सहित कई जिले व प्रखंड के सैकड़ों पदाधिकारी शामिल हुए। चिंतन शिविर का अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार गुप्ता ने किया जबकि संचालन प्रदेश सचिव सुरेश ठाकुर ने किया।