कार्तिक पूर्णिमा पर जिले के शक्ति पिठों में उमड़ी भीड़, गंगा स्नान कर किया दान

इटखोरी/पत्थलगडा। कार्तिक पूर्णिमा पर जिले के पवित्र घाटों व शक्ति पिठों में 30 नवंबर को श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। हालांकी कोरोना को लेकर कई स्थानों पर लगने वाले मेले नही लगे पर लोगों की भीड़ कोई कमी नही आई। कार्तिक पूर्णिमा पर श्रद्धालु घाटों पर पहुंच गंगा स्नान के बाद बहती जलधारा में दीप दान किया। जिला मुख्यालय स्थित हेरूआ नदी व इटखोरी स्थित मां भद्रकाली मंदिर के समीप महाने नदी पर गंगा स्नान के लिए भारी भीड़ उमड़ी। वहीं इटखोरी स्थित माता भद्रकाली मंदिर, पत्थलगडा के लेंबोइया पहाड़ी पर अवस्थित देवी स्थान व हंटरगंज प्रखंड के कौलेश्वरी पर्वत स्थित कुलेश्वरी मंदिर में पूजा अर्चना के लिए श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी। मान्यताओं के अनुसार कार्तिक पूर्णिमा विशेष फल देने वाली होती है। आज के दिन जो भी भक्त सच्चे मन और विश्वास के साथ गंगा में डुबकी लगाकर दीप दान करते हैं उनकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। आस्था की डुबकी लगाने के लिए शहर के हेरूआ नदी में श्रद्धालुओं भीड़ अहले सुबह से ही जुटने लगी थी। वहीं दोपहर के बाद लेंबोईया देवी स्थान परिसर में मेला का आयोजन किया गया। कार्तिक पूर्णिमा के पावन अवसर पर मां भद्रकाली मंदिर परिसर सहित अन्य सभी शक्ती पीड़ों में दर्शन-पूजन के लिए श्रद्धालु भक्तों की लंबी कतार अहले सुबह से लेकर दोपहर तक लगी रही। कई भक्तों ने मंदिर परिसर में गरीबों के बीच अनाज व अर्थ दान किया।