खाटू श्याम जी का निशान लेकर श्याम प्रेमी दुमका के लिये रवाना

गोड्डा: प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी खाटू श्याम जी का निशान लेकर गोड्डा के श्याम भक्त रविवार को दुमका के लिये रवाना हुए।
अग्रसेन भवन में श्याम जी की ज्योत लेकर निशान का पूजनोत्सव कर निशान पदयात्रा में शामिल हुए भक्त। श्यामप्रेमी प्रीतम गाडिया ने बताया कि राजस्थान के सीकर जिलें में खाटू में श्याम का मंदिर है, जहां देश विदेश से बाबा के दरबार में निशान चढ़ाने जाते हैं।महाभारत काल में भीम के पौत्र बर्बरीक को भगवान शिव से तीन वाण की शक्ति प्राप्त थी, जिसके एक बाण से एक मुहूर्त में सृष्टि का नाश किया जा सकता था। भगवान श्रीकृष्ण ने बर्बरीक की परीक्षा लेकर जन कल्याण हेतु शीश का दान मांग लिया। बर्बरीक ने सहजता से कृष्ण को अपना शीश का दान अर्पित कर दिया। इस पर श्री कृष्ण ने अपना श्याम नाम और कलियुग में पूजे जाने का वरदान दिया।
निशान में सज्जन शिवानीवाला सूरजगढ़ निशान लेकर चलते हैं। सूरजगढ़ निशान के बारे में बताया जाता है कि विक्रम संवत 1975 फागुन शुक्ला द्वादशी को खाटू के मंदिर के शिखर पर निशान चढ़ाने की होड़ मच गई। यद्यपि सूरजगढ़ का निशान पहले से ही शिखर पर चढ़ाया जाता था। परंतु विभिन्न स्थानों से आए भक्तजनों ने भी शिखर पर ध्वज चढ़ाने की जिद पकड़ ली। बाद में सर्वसम्मति से निर्णय लिया गया कि जो भक्त बिना चाभी से मंदिर का ताला खोल देगा, वही निशान सबसे पहले चढायेगा। दूर-दूर से आए भक्तों को मौका दिया गया, मगर कोई भी बिना चाबी के ताला नहीं खोल पाया। बाद में महंत गोवर्धन दास ने अपने शिष्य मंगला दास को मोर पंख से ताला खोलने का आदेश दिया। मंगलाराम ने गुरू के आदेश से मोरपंख से मंदिर मे लगे ताले को खोल दिया । इसके बाद से ही सूरजगढ़ का निशान खाटू धाम के मंदिर के शिखर पर चढ़ाया जाता है जो साल भर लहराता है।
श्री गाडिया के अनुसार,आज खाटू श्याम का मंदिर देश में कई जगहों पर स्थापित है, जहां फागुन शुक्ला एकादशी और द्वादशी को निशान चढ़ाया जाता है। इसी क्रम मे गोड्डा से सभी श्यामप्रेमी निशान उठाकर नाचते, गाते, झूमते दुमका श्याम मंदिर तक पदयात्रा कर बाबा को निशान अर्पित करते हैं। पैदल यात्रा करने वालो में अविनाश अग्रवाल,आलोक गाडिया, रवि अग्रवाल,अनूप सरावगी, अमित बजाज, मनीष बजाज, हर्ष गाडिया,संतु शर्मा,शिवम गाडिया, यश टेकरीवाल,महेश बजाज, अंकित प्राणसुखा,अमन गाडिया,आदि कुल 35 निशान गोड्डा से दुमका के लिए पदयात्रा कर के जा रहे हैं। मौके पर अग्रसेन भवन के पदाधिकारी शिव कुमार गाडिया, पवन परशुरामका,महिला समिति की अध्यक्षा मीरा बजाज, कुसुम टेकरीवाल, पुजा बजाज, अनिता डालमिया, सीमा शर्मा, चंदा अग्रवाल, श्वेता गाडिया, अन्नपूर्णा गाडिया,हर्षिता आस्था,मारवाड़ी युवा मंच के सचिव अंकित गाडिया,प्रीतम गाडिया,अविनाश गाडिया, देवाशीष बजाज,विजय बजाज,प्रदीप गाडिया, विवेक प्राणसुखा, पीयूष गाडिया, सचिन गाडिया आदि शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *