कोल्हान टॉपर बना संतोष कोड़ाह मिशाल बन कर आया सामने

स्कूल में नामांकन के बाद हुई पिता की मृत्यु,दो बर्ष बाद माता भी नही रही ,पढ़ाई का सारा खर्च मधुसूदन स्कूल परिवार उठाया
आज बना कोल्हान टॉपर
रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: आर्थिक स्थिति दयनीय होने के कारण कभी पढाई छोड़ने का बन बनाने वाले मेट्रिक की परीक्षा में कोल्हान टॉपर बना संतोष मधुसूदन महतो उच्च विद्यालय के लिए ही नही बल्कि शिक्षा जगत में वे विद्यार्थियों के बीच एक मिशाल साबित हुआ है ।जानकारी के अनुसार स्कूल में नामांकन के बाद ही हुई पिता की मृत्यु उसके 2 साल बाद माता भी नहीं रही ।इसी बीच संतोष कोड़ाह पढाई छोड़ने का मन बना लिया पर संतोष का अभिभावक ही नही माता पिता बन गया मधुसूदन महतो स्कूल परिवार और पढाई की पूरे खर्च का उठाया बीड़ा। कोल्हान टॉपर का रिजल्ट से जहाँ स्कूल परिवार में उत्साह है वही शिक्षा जगत में एक मिशाल भी है ।
मधुसूदन महतो उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक बसंत महतो बताते हैं कि संतोष कोड़ाह सही मायने में अनुशासन का मिसाल है पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद वाद-विवाद सामान्य ज्ञान चित्रांकन आदि पर हमेशा अव्वल रहता था आज स्कूल उसके परिणाम से काफी खुश है।