कोल्हान विश्वविद्यालय के शिक्षक डॉ० पीएन बेरा का निधन

जमशेदपुरः कोल्हान विश्वविद्यालय के अंगीभूत महाविद्यालय बहरागोड़ा काॅलेज बहरागोड़ा में कार्यरत घंटी आधारित अनुबंध सहायक प्राध्यापक डॉ०एन०के०बेरा के असमय निधन से झारखंड सहायक प्राध्यापक अनुबंध संघ में मातम सा छा गया है। प्रदेश संरक्षक सह कोल्हान विश्वविद्यालय सहायक प्राध्यापक अनुबंध संघ के अध्यक्ष डॉ०एसके झा ने कहा कि डॉ० बेरा जिंदादिली इंसान थे।कोरोना के दूसरे लहर ने कहर बरसा के निकला है। ईश्वर उन्हें अपने श्रीचरणों में स्थान दें और समस्त पारिवारिक सदस्यों व मित्रगणों को इस दुःख को सहने की शक्ति प्रदान करें। विश्वविद्यालय प्रशासन से अनुरोध है कि वित्त विभाग, झारखंड सरकार के 28.05.2021के पत्र के आलोक में शोक संतृप्त परिवार को क्षतिपूर्ति अनुदान राशि यथाशीघ्र प्रदान करवायें। कोल्हान विश्वविद्यालय संघ के उपाध्यक्ष डॉ०के०के०कमलेंदू ने कहा कि एक योग्य शिक्षक हमलोगों के बीच से असमय चले जाने से काफी मर्माहित हैं। कोल्हान विश्वविद्यालय संघ के सचिव डॉ०अंजना सिंह ने कहा कि उच्च शिक्षा के क्षेत्र में एक युवा साथी के असमय चले जाने से काफी अपूर्णिय क्षति हुई है। इस दुःख के घड़ी में संघ के सभी शिक्षक शोक संतप्त परिवार के साथ खड़ा है।डॉ०बेरा के असमय निधन से न सिर्फ महाविद्यालय के डाॅ०गोपीनाथ पांडेय, डॉ०राजीव कुमार आदि शिक्षकों ने कहा कि डॉ० बेरा कला और संस्कृति में भी काफी अव्वल थे। विश्वविद्यालय व प्रदेश स्तर पर भी सैकड़ों की संख्या में शिक्षकों ने डॉ०बेरा को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *