कारगिल युद्ध में शहीद केरोबिन तिग्गा के पिता को श्रम मंत्री ने किया सम्मानित, कहा सेना के जवान देश के असली धरोहर हैं

चतरा। बुधवार को राज्य के श्रम, नियोजन सह कौशल विकास मंत्री सत्यानन्द भोगता सदर प्रखंड के आरा पंचायत अंतर्गत मर्दनपुर में कारगिल युद्ध में शहीद केरोबिन तिग्गा के 22वें शहादत दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे। इस दौरान मंत्री ने शहीद के प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के उपरांत शहीद के पिता को शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया। साथ ही शहीद की स्मृति में स्मारक स्थल परिसर में वृक्षारोपण किया। ज्ञात हो कि कारगिल युद्ध के दौरान 04 अगस्त 1998 में केरोबिन तिग्गा शहीद हो गए थे। इस दौरान मंत्री ने कहा कि सेना के जवान देश के धरोहर हैं। इसके उपरांत शहीद के स्मृति में आयोजित फुटबॉल टूर्नामेंट का मंत्री ने विधिवत फीता काटकर किया उद्घाटन किया। साथ ही दोनों टीमों को जर्सी देकर खिलाड़ियों से खेल को खेल की भावना से खेलने की बात कही। उसके बाद सदर प्रखंड मुख्याल में बने नए भवन वन स्टॉप का विधिवत फीता काटकर व नारियल फोड़कर उद्घाटन किया। कार्यक्रम में मंत्री के साथ डीएसपी मुख्यालय केदार राम, बीडीओ गणेश रजक, अंचलाधिकारी भागीरथ महतो, जिलाध्यक्ष नवल किशोर यादव, मंत्री प्रतिनिधि बाल गोविंद यादव, उदय वर्मा, समाजसेवी अरुण सिंह, मुखिया भीम यादव, अजय यादव, दान भूषण लाकड़ा एवं कई गणमान्य लोग शामिल थे।