लरंगो कोयल नदी से हो रहा है बालू का अवैध कारोबार, प्रशासन बना मुकदर्शक

बसंत कुमार गुप्ता

गुमला।सिसई प्रखण्ड के ग्राम लरंगो कोयल नदी पुल के महज पांच सौ फीट की बगल, बालाघाट में,लोडर मशीन, कई हाईवा टृक, एवं कई टैक्टर, के द्वारा धड़ल्ले से प्रशासन के आड़ में अवैध रुप से महीनो पूर्व से बालु का उतखनन किया जा रहा है ।दिन- रात बालु चोरी बालु माफिया के द्वारा हाईवा टृक से बाहर भेजी जा रहीं हैं, ग्रामीणों के शिकायत पर, सिसई विधानसभा कांग्रेस युवा अध्यक्ष गंगा उराँव ने स्थल दौरा के क्रम में सही पाया और गंगा उराँव ने कहा- प्रशासनिक घोर- लापरवाही एवं बालु माफिया के मिलीभगत से सरकारी संपत्ति का खुलेआम कोयल नदी से लोडर मशीन से हाईवा टृक में उठाव कर चोरी कराया जा रहा है और प्रति दिन लाखों रुपये की राजस्व नुकसान पहुंचाया जा रहा है और प्रशासन के इस खेल से महागठबंधन की सरकार को बदनामी करायी जा रहीं हैं दिन में सीधे कोयल नदी में लोडर मशीन से हाईवा टृक में लोड कर रहा है और खड़हरडीपा लरंगो बालू डंप में, जे सी बी गाड़ी से उठाया जा रहा है और राजधानी रांची भेजा जा रहा है, लरंगो कोयल नदी पुल,बालू खनन के कारण ही पुल बह चुका है जिससे अभी आवागमन के लिए ग्रामीणों को भुगतना पड़ रहा है अभी तत्काल में फिर से वही जगह नया पुल निर्माण किया जा रहा है, परंतु कुछ ही दूरी पर धडल्ले से बालु की उतखनन हो रहा है जिससे फिर से पुल बहने एवं छतिग्रस्त होने का संभावना बना रहेग, कई ग्रामीणों ने आक्रोश जताते हुए कहा- क्षेत्र के संसद,विधायक आंख बंद करके सोए हुए हैं, और बालु माफिया यहां अवैध रूप से धंधा चला रहे है, गंगा उराँव ने कहा- सिसई प्रखण्ड में कोयल नदी तट में लगभग दो र्दजन से अधिक जगहों पर अवैध बालु नीकासी की जा रही है, जिसकी रीपोर्ट तैयार कर, माननीय मुख्यमंत्री एवं माननीय वित्त मंत्री डा0 रामेश्वर उराँव को सौपा जाएगा।