लातेहार सदर अस्पताल पहुंचे डीसी इमरान, व्यवस्था देख विफरे, कहा- 25 मार्च से चिकित्सकों व कर्मियों को नो ड्रेस नो पेय करें लागू

सदर अस्पताल में बाइक लगाने वालों का लाइसेंस रद्द करने को लेकर डीटीओ  को किया निर्देशित
अस्पताल में सफाई व्यवस्था पर जताई नाराजगी,कर्मी का  एक दिन का काटा वेतन
गर्भवती महिला का इलाज नहीं करने एवं नशे के हालत में चिकित्सक के होने के मामले पर उपायुक्त ने की जांच टीम गठित

लातेहार: लगातार सदर अस्पताल में अव्यवस्था की जानकारी उपायुक्त को मिल रही थी जिसको लेकर उपायुक्त अबु इमरान बुधवार को सदर अस्पताल पहुंचे एवं अस्पताल के विधि-व्यवस्था का औचक निरीक्षण किया। उपायुक्त अबु इमरान सदर अस्पताल की व्यवस्था को देख नाराजगी व्यक्त की एवं अस्पताल में व्यवस्था सुधार करने को लेकर सिविल सर्जन को निर्देशित किया। निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त के द्वारा प्रत्येक वार्ड का निरीक्षण किया गया एवं स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दी जाने वाली सुविधा को मरीजों को सुनिश्चित करवाने को लेकर सिविल सर्जन को निर्देशित किया। निरीक्षण के क्रम में उपायुक्त श्री इमरान ने मेडिकल कर्मियों * *को बगैर ड्रेस/अप्रेन / *पी0पी0ई0 कीट पहने  पाए जाने पर सिविल सर्जन को नो ड्रेस नो पेय  का निर्देश दिया एवं 25 मार्च से इसे सुनिश्चित की बात कही* ।निरीक्षण के क्रम में  सदर अस्पताल के मुख्य भवन के पास अनाधिकृत रूप से वाहन पार्किंग किया हुआ पाया गया जिससे  कार्य में बाधा भी उत्पन्न हो रही है। जिस पर उपायुक्त के द्वारा डीटीओ संतोष कुमार सिंह को ऐसे सभी मोटरसाइकिल के मालिक के लाइसेंस को रद्द  करने का निर्देश दिया।  स्वास्थ्य केन्द्र संचालन को बाधित करने वाले बाइक चालक से  परिवहन नियमावली एक्ट के तहत कारण पृच्छा  करने का निर्देश दिया। निरीक्षण के क्रम में सदर अस्पताल की सफाई  व्यवस्था ठीक ढंग से नहीं होने पर संबंधित कर्मी का एक दिन का मानदेय काटने का निर्देश दिया। इस दौरान उपायुक्त अबु इमरान को पेयजल समस्या से संबंधित जानकारी दी गई जिस पर उपायुक्त श्री इमरान ने पीने का पानी हेतु कार्यपालक पदाधिकारी, नगर पंचायत, लातेहार एवं कार्यपालक अभियंता, पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल, लातेहार को अविलंब बंद/ खराब  पाईपलाईन को दुरुस्त करने का निर्देश दिया। निरीक्षण के क्रम में अस्पताल में अवैध राशि  मांगे जाने की शिकायत मिली जिस पर उपायुक्त के द्वारा  सिविल सर्जन इसकी विस्तृत जांच जांच कर अविलंब रिपोर्ट सौंपने एवं दोषी पर कार्रवाई करने की बात कही । निरीक्षण के दौरान उपस्थित प्रभारी टी0बी0 कंट्रोल के द्वारा बताया गया कि जिला स्तर से रिक्त पदों की भर्ती रोस्टर क्लीरेन्स लंबित है। इस संबंध में उप विकास आयुक्त एवं अपर समाहर्ता को 1 सप्ताह में  रोस्टर  क्लीरेन्स कराने को लेकर निर्देशित किया। निरीक्षण के दौरान उपायुक्त आईसीयू वार्ड पहुंचे हैं एवं इसका जायजा लिया उपायुक्त के द्वारा आईसीयू वार्ड में लिस्ट  को लेकर सिविल सर्जन को प्रस्ताव उपलब्ध कराने को लेकर निर्देशित किया गया एवं इस दिशा में अभिलंब कार्रवाई सुनिश्चित करने की बात कही गई । मौके पर सिविल सर्जन डॉ संतोष श्रीवास्तव समेत अन्य चिकित्सक एवं कर्मी मौजूद थे।
गर्भवती महिला का इलाज नहीं करनी एवं नशे के हालत में चिकित्सक के होने के मामले पर उपायुक्त ने की जांच टीम गठित
सदर अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंचे उपायुक्त अबु इमरान ने गर्भवती महिला को इलाज नहीं करने एवं सदर असपताल से वापस करने के संबंध में  शराब के नशे में चिकित्सक के द्वारा इलाज में लापरवाही एवं अनुमंडल कार्यालय के लिपिक के द्वारा चिकित्सकों को धमकी के संबंध में जानकारी ली एवं सभी प्रकरण की जांच हेतु अपर समाहर्ता की अध्यक्षता में जांच टीम गठित  की गई।  सिविल सर्जन को सह-अध्यक्ष अनुमंडल पदाधिकारी, लातेहार एवं प्रीती सिन्हा, कार्यपालक दण्डाधिकारी  सदस्य को जाँच कर 28 मार्च तक रिपोर्ट समर्पित करने का निर्देश दिया गया है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *