महागामा में बनेगा 300 बेड का अस्पताल: बन्ना गुप्ता

– स्वास्थ्य मंत्री ने जिले की बदहाल स्वास्थ्य सुविधा में आमूलचूल सुधार करने का दिया भरोसा
-कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक में केंद्र की भाजपा सरकार के खिलाफ संघर्ष करने का किया आह्वान
गोड्डा से  अभय पलिवार की रिपोर्ट
गोड्डा: जिले के महागामा में 300 बेड का अस्पताल बनेगा। जिले की बदहाल स्वास्थ्य सुविधा में आमूलचूल सुधार किया जाएगा। यह बात सूबे के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने गुरुवार को जिला कांग्रेस कार्यालय में आयोजित पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में कही।
मंत्री श्री गुप्ता ने कहा कि 300 बेड के नए अस्पताल भवन के लिए उपायुक्त को जमीन का प्रस्ताव भेजने का निर्देश दिया गया है। उन्होंने स्वीकार किया कि राज्य में डॉक्टरों एवं स्वास्थ्य कर्मियों की भारी कमी है। पिछली सरकारों की गलतियों का खामियाजा वर्तमान सरकार को भुगतना पड़ रहा है। लेकिन वर्तमान सरकार व्यवस्था में सुधार के लिए प्रयासरत है। हमारे इरादे कमजोर नहीं हैं।
शेरो शायरी से भरपूर भाषण के दौरान सूबे के स्वास्थ्य मंत्री ने भाजपा की पूर्ववर्ती राज्य सरकार एवं वर्तमान केंद्र सरकार पर जमकर तंज कसा। कहा कि 56 इंच सीना का दावा करने वाले अपने आपको प्रधानमंत्री नहीं बल्कि प्रधान सेवक एवं देश का चौकीदार कहते थे। लेकिन केंद्र की वर्तमान सरकार के कार्यकाल में हमारे संस्कार पर हमला हो रहा है, देश की गंगा जमुनी तहजीब पर हमला हो रहा है। देश की सीमा का अतिक्रमण किया जा रहा है। पड़ोसी चीन हमारी सीमा में घुस गया है।
श्री गुप्ता ने कहा कि केंद्र सरकार की किसान विरोधी नीतियों के कारण अन्नदाता किसान तबाह हो रहे हैं। आत्महत्या करने पर विवश हो रहे हैं। अन्नदाताओं की जमीन भी अपने मित्र पूंजीपतियों को देने की तैयारी कर रहे हैं। इसके लिए किसान कानून बनाया गया है।
उन्होंने कहा कि देश के तमाम संसाधनों को पूंजीपतियों को देने की तैयारी चल रही है। जिओ घर घर पहुंच रहा है और बीएसएनएल, एमटीएनएल अंतिम सांसें गिन रहा है। प्रधानमंत्री को इसकी चिंता नहीं है। श्री गुप्ता ने कहा कि इसके पूर्व किसी प्रधानमंत्री को इतना झूठ फरेब करते नहीं देखा। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि भाजपा के कुशासन के खिलाफ शंखनाद करने की जरूरत है। कहा कि झारखंड की पिछली भाजपा सरकार से हमें विरासत में डीवीसी का बकाया 5000 करोड़ रुपये कर्ज के रूप में मिला है।
कांग्रेस कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री एवं पोड़ैयाहाट के वर्तमान विधायक प्रदीप यादव ने कहा कि बहुत गलत तरीके से देश एक जादूगर के हाथ में फंस गया है। एक सपेरा की तरह देश के प्रधानमंत्री सिर्फ सपनों का यंत्र बेचने का काम कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू ने देश को संवारा। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने कठोर निर्णय लेते हुए देश को ताकतवर बनाया। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को दुर्गा का रूप बताते हुए श्री यादव ने कहा कि इंदिरा जी ने रातों-रात कोयला उद्योग का राष्ट्रीयकरण किया। उस समय भी पूंजीपतियों ने कोयला उद्योग के राष्ट्रीयकरण के खिलाफ सरकार को खरीदने की कोशिश की होगी। लेकिन किसी की नहीं सुनी गई। 24 बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया गया।
लेकिन वर्तमान प्रधानमंत्री देश की संपत्ति को निजी हाथों में दे रहे हैं एवं देने की तैयारी कर रहे हैं। रेल, एयरलाइंस आदि का निजीकरण किया जा रहा है। बिरसा मुंडा हवाई अड्डा अब अदानी या अंबानी के परिवार के नाम से जाना जाएगा। श्री यादव ने कहा कि देश को इस जादूगर के हाथ से बचाने की जरूरत है। इसके लिए कांग्रेस जनों की ज्यादा जिम्मेदारी है। हमें घर घर तक पहुंचने की जरूरत है। लोगों को सरकार की जनविरोधी नीतियों से वाकिफ कराने की जरूरत है। पार्टी संगठन को मजबूत करने की जरूरत है।
महागामा की कांग्रेस विधायक दीपिका पांडेय सिंह ने स्वास्थ्य विभाग की कमियों की ओर मंत्री का ध्यान आकृष्ट किया। उन्होंने कहा कि कोरोना काल के कारण राज्य सरकार मन मुताबिक कार्य नहीं कर पा रही है। कोरोना से निपटने में स्वास्थ्य विभाग की सर्वाधिक अहम भूमिका रही। इसलिए स्वास्थ्य सुविधा को मजबूत करने के लिए भी सरकार गंभीरता पूर्वक कदम नहीं उठा पा रही है। उन्होंने कहा कि पूर्ववर्ती राज्य सरकारों ने व्यवस्था नहीं की थी जिसका खामियाजा उठाना पड़ रहा है।
सभा की अध्यक्षता कांग्रेस के जिला अध्यक्ष दिनेश यादव एवं संचालन जिला प्रवक्ता कर रहे थे। मंच पर प्रदेश कांग्रेस की मंत्री बिंदु मंडल, महिला कांग्रेस की जिलाध्यक्ष सोनी झा, नगर परिषद की उपाध्यक्ष बेणु चौबे, वरिष्ठ कांग्रेस नेता जगधात्री झा, धनंजय यादव, सच्चिदानंद साहा, प्रियव्रत झा, सुमित कुमार बिट्टू, शकील अहमद, अभय जायसवाल आदि मौजूद थे।