भारत बंद कराने सड़कों पर उतरे महागठबंधन दल के नेता एवं माझी बाबा

कांड्रा से के दुर्गा राव की रिपोर्ट

कांड्रा: सरायकेला खरसावां जिला अंतर्गत आदित्यपुर, गम्हरिया एवं कांड्रा क्षेत्र में केंद्रीय कृषि बिल 2021 के तीन कानूनों को वापस लिए जाने और एमएसपी लागू किए जाने की मांग को लेकर आंदोलित संयुक्त किसान मोर्चा के समर्थन में वाम दलों द्वारा बुलाए गए भारत बंद में देश के
सभी 19 विपक्षी दल ने एकजुटता दिखाते हुए आज भारत बंद का समर्थन किया। सड़कों पर उतरकर केंद्र सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. झारखंड सरकार द्वारा भी बंद को समर्थन किए जाने की घोषणा के बाद राज्य की सत्ताधारी दल झामुमो, कांग्रेस एवं राजद एवं वाम दलों के साथ किसान संगठनों के साथ माझी बाबाओं ने सड़कों पर बंद कराने निकले. जहां कहीं स्वतः ही व्यवसायियों एवं कारोबारियों ने अपने प्रतिष्ठान बंद रखे, गम्हरिया प्रखंड एवं आसपास के शहरी से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक लगभग हर जगह बंद समर्थकों ने व्यवसायिक प्रतिष्ठान एवं सड़कों पर वाहनों को रोका. हालांकि प्रशासनिक मुस्तैदी जरूर दिखी, कुल मिलाकर बंद का व्यापक असर आदित्यपुर गम्हरिया कांड्रा एवं आसपास के इलाकों में देखा गया।बड़ों पीढ़ परगाना रामदास टूडू, सोनाराम माझी, भादो माझी, भीम मांझी, झामुमो से जिला अध्यक्ष शुभेंदु महतो, जिला उपाध्यक्ष अमृत महतो, राम हांसदा, कांग्रेस से जिलाध्यक्ष छोटेराय किस्कू, होनी सिंह मुंडा, प्रकाश कुमार राजू, जगदीश नाथ चौबे, श्रीराम ठाकुर, मोनू झा, राजद से प्रदेश महासचिव अर्जुन यादव, जिला अध्यक्ष संजय सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ता सड़क पर उतरे।