महिला दिवस को लेकर विधिक जागरूकता शिविर का किया गया आयोजन

पाकुड़: नालसा नई दिल्ली व झालसा रांची के निर्देश के आलोक में विश्व महिला दिवस को लेकर पाकुर शहर के जिदातो बालिका उच्च विद्यालय में जिला विधिक सेवा प्राधिकार के तत्वाधान में विधिक जागरूकता शिविर वरिष्ठ जनों के लिए नालसा स्कीम प्रोग्राम का आयोजन किया गया। आयोजित शिविर में मौजूद प्राधिकार के सचिव सुनील दत्त द्विवेदी ने उपस्थित छात्राओं को संबोधित करते हुए वर्तमान में महिलाओं के द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों की जानकारी दी ।उन्होंने कहा कि महिला और पुरुषों में किसी प्रकार का भेदभाव नहीं होना चाहिए ।उन्होंने कहा कि आज के समय महिलाएं पुरुष के साथ कंधे से कंधे मिलाकर चल रही है। जमीन हो या आसमान सभी जगह महिलाएं अपनी उपस्थिति दर्ज करवा चुकी है।उन्होंने कहा कि महिलाएं जहां मां बनकर बच्चों का लालन-पालन कर रही है तो वही सेना में भर्ती लेकर सीमा की सुरक्षा भी कर रही है। उन्होंने कहा कि हमें महिलाओं का सम्मान करने की जरूरत है। वही मौके पर मौजूद जिला शिक्षा पदाधिकारी रजनी देवी ने कहीं कि छात्रों के लिए यह काफी सुनहरा मौका है कि जिला विधिक सेवा प्राधिकार के द्वारा विद्यालय के छात्र छात्राओं को कानून की अहम जानकारी दी जा रही है ।उन्होंने कहा कि आज विश्व महिला दिवस है और इसका महत्व दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। उन्होंने कहीं कि जिला विधिक सेवा प्राधिकार से जुड़े न्यायिक पदाधिकारी के द्वारा दी गई जानकारी तभी सार्थक होगी जब हम शिक्षित होंगे। उन्होंने कहा कि आज के समय में छात्राओं को शिक्षित होना जरूरी है आप शिक्षित होंगी तभी कानून की जानकारी प्राप्त कर अहम पदों पर आसीन हो सकती है। जिला शिक्षा पदाधिकारी ने आगे कहीं कि यदि एक लड़की शिक्षित हो जाती है तो पूरा समाज को शिक्षित कर सकती है इसीलिए इस महत्व को आप को समझना होगा। वही मौके पर मौजूद न्यायिक पदाधिकारी निर्मल कुमार भारती, प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी डॉ शमरुल हक, प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी रघुनाथ रजक, विद्यालय के प्राचार्य चंचल सिन्हा ने भी कई अहम जानकारी उपलब्ध करवाई। वही मौके पर कोरोना वायरस किस प्रकार बचाव किया जा सकता है इसकी भी जानकारी उपलब्ध करवाई गई। वहीं मंच का संचालन कोर्ट कर्मी मोहम्मद नासिर ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन विद्यालय के सचिव के द्वारा किया गया।