सरकारी योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचायेंः आयुक्त

मनरेगा बीपीओ एवं प्रधान सहायक को शो-कॉज

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट

गढ़वा : प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं अंचल अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में सरकार द्वारा संचालित योजनाओं को समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना सुनिश्चित करें। लोगों को लाभ लेने के लिए प्रखंड व अंचल कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़े, इसका ध्यान रखें। योग्य लाभुकों तक सहजता से योजनाएं पहुंचे। पलामू प्रमंडल की मिट्टी कृषि योग्य है। इसलिए कृषि कार्यो को बढ़ावा देने के लिए बेहतर एवं इनोवेटिव काम किए जाने की आवश्यकता है। संभावनाओं की खेती को बढ़ावा दिया जाए, ताकि किसान भाइयों को कृषि कार्य का बेहतर मुनाफा मिल सके। रसदार फलों यथा संतरा, मौसमी, नींबू आदि के पौधे का पौधरोपण करना सुनिश्चित कराये जाने की जरूरत है। यह बातें आयुक्त श्री जटाशंकर चौधरी ने कही। वे आज गढ़वा जिले के मेराल प्रखंड-सह-अंचल कार्यालय एवं थाना  का निरीक्षण करने पहुंचे थे। निरीक्षण में गढ़वा उपायुक्त राजेश कुमार पाठक, उप विकास आयुक्त सत्येंद्र नारायण उपाध्याय एवं एसडीओ राज महेश्वरम भी थे।

निरीक्षण के दौरान आयुक्त ने पाया की गढ़वा जिले के मेराल प्रखंड क्षेत्र में नेनुआ, भिंडी, बैगन आदि विभिन्न प्रकार के सब्जी का उत्पादन बड़े स्तर पर होती है। नेनुआ की खेती को लेकर ही एक मोड़ का नाम भी नेनुआ मोड़ रखा गया है। ऐसे में आयुक्त ने नेनुआ सहित अन्य हरी साग-सब्जियों की उत्पादकता और बढ़ाने का निर्देश दिया। साथ ही गढ़वा उपायुक्त को रेफ्रिजरेटर युक्त वैन की व्यवस्था कराने हेतु तत्काल पहल करने का निदेश दिया, ताकि उत्पादित सब्जियों का दूसरे जगहों पर निर्यात किया जा सके। इससे किसानों को अधिक-से-अधिक मुनाफा दिलाया जा सके। आयुक्त ने जिले के मेराल प्रखंड क्षेत्र में पपीता, स्वीट कॉर्न, संतरा, मौसमी, नींबू आदि रसदार फलों की खेती को कलस्टर स्तर पर कराने का निर्देश दिया। वहीं इंटरक्रॉपिंग कर सब्जियों का उत्पादन पर बल दिया। इस हेतु किसानों को जागरूक एवं प्रोत्साहित करने का निदेश दिया, ताकि एक ही खेत में एक समय पर दो फसलों के उत्पादन का लाभ किसानों को मिल सके। आयुक्त ने खेती को कलस्टर स्तर पर लगवाने एवं अमरूद की खेती को बढ़ावा देने के लिए कलस्टर स्तर पर पैच तैयार कराकर अच्छे वेरायटी के अमरुद के पौधे का पौधरोपण सुनिश्चित कराने का निदेश दिया। इसके लिए यहां किसानों को हरिहरगंज प्रखंड क्षेत्र में स्थित अमरूद बागान का भ्रमण कराने का भी निदेश दिया। आयुक्त ने कृषि कार्य को गति देने के लिए वीएलडब्लू, बीपीओ, जेएसएलपीएस के बीपीएम एवं अन्य को समन्वय के साथ कार्य करने, कृषि संबंधित कार्यों का संयुक्त रुप से भ्रमण कराने का निदेश दिया। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी को प्रखंड में चल रहे योजनाओं का निरीक्षण करते हुए विकास कार्यों में गति लाने का निदेश दिया।

उर्वरक दुकानों की करें छापेमारी, कालाबाजारी पर करें कार्रवाई

आयुक्त श्री जटाशंकर चौधरी ने प्रखंड क्षेत्र में उर्वरक की उपल्बधता सुनिश्चित कराने एवं कालाबाजारी पर कार्रवाई कार्रवाई करने का निदेश दिया। आयुक्त ने किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) की अधिकाधिक स्वीकृति के लिए उपायुक्त को जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक (एलडीएम), डीडीएम नाबार्ड एवं संबंधित बैंकों के शाखा प्रबंधकों के साथ बैठक कर Loan Disbursement करने एवं सुयोग्य किसानों को इसका लाभ देने का निदेश दिया।

पशुपालकों को अच्छे नस्ल वाले पशु करायें उपलब्ध

पशुपालन विभाग की समीक्षा में आयुक्त ने पशुपालन पदाधिकारी को ब्रिड इंप्रूवमेंट हेतु बकरा बदलने एवं पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए अच्छे नस्ल वाले पशुओं को पशुपालकों को उपलब्ध कराने  एवं मुख्यमंत्री पशुधन योजना से लाभुकों को लाभान्वित कराने का निदेश दिया।

पेंशनधारियों को समस्या होने पर होगी कार्रवाई

पेंशन को लेकर आयुक्त ने कहा कि पेंशन योजना का लाभ लेने के लिए लाभुकों को कदापि परेशान नहीं होने दें। पेंशनधारियों को आधार वेरिफिकेशन एवं अन्य समस्याओं को दूर करते हुए योग्य/वैध पेंशनधारियों को खाते में पेंशन दिलाना सुनिश्चित करें। इसमें लापरवाही या शिथिलता बरतने पर कार्रवाई की जाएगी।

आयुक्त ने प्रखंड विकास पदाधिकारी को प्रखंड क्षेत्र में निर्माण हो रहे प्रधानमंत्री आवास की जांच करने का निदेश दिया। वहीं बाल विकास परियोजना पदाधिकारी को आंगनबाड़ी केंद्रों में नामांकित 5 वर्ष तक के बच्चों का आधार पंजीकरण सुनिश्चित कराने, पर्यवेक्षकों द्वारा आंगनबाड़ी केंद्र का निरीक्षण कराने एवं उसका मॉनिटरिंग कराने का सख्त निर्देश दिया है। प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी को प्रखंड क्षेत्र के सभी शिक्षकों को कोविड-19 का टीका दिलाना सुनिश्चित करने का भी निदेश दिया।

दो को शो-कॉज

आयुक्त ने रिपोर्ट दिखाने में असफलता पर मनरेगा बीपीओ एवं निरीक्षण टिपप्णी का सही से संधारण नहीं होने पर प्रखंड कार्यालय के प्रधान सहायक को शो-कॉज करने का निदेश दिया।

मूवमेंट रजिस्टर करें तैयार

आयुक्त ने प्रखंड एवं अंचल कार्यालय में कार्यरत कर्मियों का मूवमेंट रजिस्टर तैयार करने का निदेश दिया और मूवमेंट से संबंधित गतिविधि को रजिस्टर में अंकित करने का निदेश दिया। वहीं प्रखंड विकास पदाधिकारी को हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण कर वहां की समस्याओं से वरीय पदाधिकारियों को अवगत कराकर व्यवस्था सुदृढ़ करने का निदेश दिया। वहीं कार्यालय की संचिका का ठीक से रखरखाव करने,  प्रखंड एवं अंचल कार्यालय में प्रखंड से संबंधित नक्शा लगवाने का निदेश दिया। भंडार कक्ष के निरीक्षण के दौरान भंडार कक्ष में अलमीरा लगवाकर फाइलों को व्यवस्थित करने का निदेश दिया। प्रखंड एवं अंचल कार्यालय कर्मियों का स्थानांतरण दूसरे स्थानों पर होने की स्थिति में उनका सर्विस बुक संबंधित कार्यालय को 1 सप्ताह में भेजने एवं स्थानांतरित होकर यहां आए कर्मियों का सर्विस बुक मंगवाने का निदेश दिया। आयुक्त ने उपस्थिति पंजी का भी अवलोकन किया और कर्मियों को आगमन के बाद प्रतिदिन उपस्थिति अंकित करने एवं प्रखंड एवं अंचल पदाधिकारी को बीच-बीच में उपस्थिति पंजी की जांच करने का निदेश दिया। आयुक्त ने प्रखंड-सह- अंचल कार्यालय में आये लाभुकों से भी बातचीत की।

मेराल निरीक्षण के पूर्व आयुक्त ने गढ़वा परिसदन में पदाधिकारियों के साथ जिले के विकास कार्यो पर चर्चा करते हुए विकास को गति देने का निदेश दिया।

संदिग्धों पर रखें कड़ी नजर, डायन-विसाही की सूचना पर करें कठोर कार्रवाई

प्रखंड-सह-अंचल कार्यालय का निरीक्षण के बाद आयुक्त मेराल थाना पहुंचकर निरीक्षण किया। उन्होंने पूर्व में मृत एक चौकीदार के परिवार के सदस्य की नियुक्ति संबंधी प्रक्रिया करने का निदेश दिया। साथ ही थाना क्षेत्र में अपराध को कम करने हेतु संदिग्ध व्यक्तियों पर कड़ी नजर रखने,  जमीन संबंधित विवाद को सुलझाने के लिए अंचल अधिकारी के सहयोग से नियमित रूप से थाना दिवस का आयोजन करने का निदेश दिया। साथ ही शराब के अवैध विक्री पर रोक लगाने, डायन-विसाही की सूचना पर तत्काल कार्रवाई सुनिश्चित कराने का निदेश दिया।

निरीक्षण के दौरान आयुक्त जटाशंकर चौधरी के साथ गढ़वा उपायुक्त राजेश कुमार पाठक, उप विकास आयुक्त सत्येंद्र नारायण उपाध्याय, आयुक्त के सचिव मतियस विजय टोप्पो, गढ़वा अनुमंडल पदाधिकारी राज महेश्वरम, प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रवेश कुमार, अंचल अधिकारी अंगार नाथ स्वर्णकार, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी साकेत कुमार पांडेय, आयुक्त के पीए जयंत कुमार उपस्थित थे। वहीं थाना के निरीक्षण में उक्त पदाधिकारी के अलावा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अवध कुमार गुप्ता, इंस्पेक्टर स्वर्णलता कुजूर, थाना प्रभारी शिवलाल गुप्ता आदि उपस्थित थे।