पंडालों में महाष्टमी पूजा अर्चना की धूम

खूंटी: खूंटी जिले के दर्जनों पूजा पांडालों में नवरात्रि महाष्टमी की पूजा अर्चना आरम्भ हो गई है और महिलाएँ आज मां दुर्गा की महागौरी रुप का दर्शन के लिए उपवास रख व्रत कर मंदिरों और पंडालों‌ में पूजा के लिए पहुँच रहे हैं। कल रात से ही महाष्टमी तिथि चढ़ते ही उपवास में हैं। जो आज 11 :41 बजे रात्रि तक अष्टमी रहेगा। अष्टमी गमन और नवमी आगमन के कालखंड में संधि बलि दिया जाएगा। इस बीच मंदिरों और पंडालों में पूजा अर्चना करने वालों की कतारबद्ध भीड़ लगी हुई है। लोग स्नान ध्यान कर माँ को चुनरी चढ़ाने पहुंच रहे हैं। खूँटी के सभी पंडालों में कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए महिलाएँ पंडाल में धीरे धीरे प्रवेश कर रही हैं। और स्वास्थ्य रक्षा का भी ख्याल रख रही है।
इस दौरान, महाष्टमी उपवास और पूजा में लगने वाली सामग्रियों की दुकानें भी बाजार और चौराहों में लग हुई है। अष्टमी की पूजा के लिए लगनेवाला नारियल , चुनरी, कमल के फूल, गंडा, कंद, फल, आदि की टोकरी सजाकर चौराहों पर बिक्री के लिए बाजार भी सजा हुआ है। इस पूजा में गंडा, खीरा, ईख, कुम्भड़ा, डम्भा आदि का काफी महत्व माना जाता है। बाजार में पूजा विशेष को लेकर खीरा 20 रु किलो, शकरकंद 40 रु किलो, ईख 30-40 रु प्रति डंडा, डम्भा 20 रु प्रति करके बिक रहे हैं। चौक चौराहों और पंडालों में दर्शक कम और उपासक ज्यादा दिखाई देने लगे हैं।